वाहनों पर नहीं लगाते रिफ्लेक्टर,होती है सडक़ दुर्घटनाएं

-परिवहन विभाग व पुलिस भी नहीं करती कार्रवाई

By: Deepak Vyas

Published: 29 Mar 2019, 07:39 PM IST

जैसलमेर/पोकरण. प्रदेश भर में दिनोंदिन सडक़ दुर्घटनाएं बढ़ती जा रही है। जिनमें मुख्य रूप से रात्रि के समय सडक़ किनारे खड़े रहने वाले वाहनों से अन्य वाहन टकराकर दुर्घटनाग्रस्त होते है। वजह है तो मात्र एक कि लोडिंग वाहन, जो आए दिन सडक़ किनारे खड़े रहते है, उनके पीछे रिफ्लेक्टर नहीं लगे रहते है तथा रात्रि के समय वाहन दिखाई नहीं दे पाते है एवं सामने से आ रहे वाहन को साइड देने के लिए जैसे ही वाहन को सडक़ किनारे किया जाता है, तो यहां खड़े वाहन से उनकी भिड़ंत हो जाती है। मात्र कुछ रुपयों के फेर में वाहन चालक रिफ्लेक्टर नहीं लगवाते है, जो किसी की जान पर भारी पड़ते है। हालांकि पुलिस व परिवहन विभाग की ओर से समय-समय पर अभियान चलाकर वाहनों के रिफ्लेक्टर लगाए जाते है तथा वाहन चालकों को जागरुक भी किया जाता है, लेकिन वाहन चालक रिफ्लेक्टर लगवाने में रुचि नहीं लेते है। जिससे परिवहन अधिकारियों के आदेशों की भी हवा निकलती नजर आ रही है।
रात्रि में दिखाई नहीं देते वाहन
मालवाहक ट्रैक्टर, ट्रक, जेसीबी सहित अन्य वाहनों की गति धीरे होती है। इसके अलावा कई बार इन वाहनों में लोड अधिक होने पर ये खराब हो जाते है। इस दौरान चालकों की ओर से वाहनों को सडक़ किनारे, तो कई बार सडक़ के ऊपर ही खड़ा कर दिया जाता है। इन वाहनों के पीछे रिफ्लेक्टर नहीं लगाए जाने के कारण ये वाहन रात्रि के समय दिखाई नहीं दे पाते है। मुख्य मार्गों पर तेज गति से निकलने वाले वाहन सडक़ किनारे खड़े मालवाहक वाहन से टकराकर दुर्घटनाग्रस्त हो जाते है। कई बार ऐसे हादसों में लोगों की जान भी जा चुकी है। हकीकत यह है कि फिटनेस करने के दौरान केवलमात्र औपचारिकता करते हुए रिफ्लेक्टर पर ध्यान नहीं देते है, जो हादसे का कारण बनते है।

...और बन रहा हादसे का कारण
-मालवाहक वाहनों का एक निश्चित अवधि के दौरान फिटनेस करवाना आवश्यक होता है।
-फिटनेस के दौरान परिवहन अधिकारियों की ओर से वाहनों की पूरी जांच करनी होती है तथा यह भी देखना होता है कि वाहन पर रिफ्लेक्टर लगे है या नहीं।
-यदि रिफ्लेक्टर नहीं होते है, तो अधिकारियों की ओर से वाहन चालकों को पाबंद कर तत्काल रिफ्लेक्टर लगवाने चाहिए।

करेंगे कार्रवाई
बिना रिफ्लेक्टर लगे वाहन अधिकतर ग्रामीण क्षेत्रोंं से आते है। जिन्हें मोटरयान अधिनियम की जानकारी नहीं होती है। सडक़ सुरक्षा सप्ताह के दौरान रिफ्लेक्टर लगाने का कार्य किया जाता है। यातायात पुलिस व हाई-वे मोबाइल पुलिस को भी ऐसे वाहनों के रिफ्लेक्टर लगाने के निर्देश दिए गए है। वाहन चालकों को समझाइश कर रिफ्लेक्टर लगवाए जाएंगे तथा नहीं लगाने पर कार्रवाई की जाएगी।
सुखराम विश्रोई, थानाधिकारी पुलिस थाना, पोकरण।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned