स्टेट हाइवे की बाउंड्री में डिस्कॉम ने लगा दिए बिजली के पोल

स्टेट हाइवे की बाउंड्री में डिस्कॉम ने लगा दिए बिजली के पोल
Discom has installed electric poles in the boundary of State Highway

Dharmendra Ramawat | Publish: Jun, 30 2018 12:20:02 PM (IST) Jalore, Rajasthan, India

आसाणा सरपंच ने अधिकारियों पर मिलीभगत का लगाया आरोप

सायला. जहां एक ओर स्टेट और नेशनल हाइवे निर्माण की राज्य एवं केंद्र सरकार की योजनाओं के लिए रोड बाउण्ड्री से विद्युत पोल हटवाने के लिए लाखों रुपए खर्च किए जा रहे हैं। वहीं उपखंड क्षेत्र में स्टेट हाइवे घोषित होने एवं रोड बाउण्ड्री होने की जानकारी के बावजूद रोड बाउण्ड्री में विद्युल पोल लगाए जा रहे हैं। इस बारे में अधिकारियों को अवगत करवाने के बावजूद वे इसे अनसुना कर रहे हैं। आसाणा की महिला सरपंच का आरोप है कि डिस्कॉम अधिकारियों एवं ठेकेदार ने जानबूझकर कुछ लोगों को फायदा पहुंचाने के लिए रोड बाउण्ड्री में पोल लगाकर लाइन शिफ्टिंग की है। सरपंच ने मामले की सीएम एवं ऊर्जा मंत्री को भी शिकायत भी की है। जानकारी के अनुसार डिस्कॉम द्वारा चौराऊ के हरियाली से खोड़ामीडा तक विद्युत लाईनों को शिफ्टिंग का कार्य चल रहा है। जिसमें डिस्कॉम के अधिकारियों द्वारा पूर्व में प्लॉटों में से गुजर रही लाइनों को शिफ्टिंग करते हुए स्टेट हाईवे 16 बी की रोड बाउंड्री पर विद्युत पोलों को लगाया जा रहा है, जबकि सार्वजिनक निर्माण विभाग के अधिकारियों के अनुसार स्टेट हाईवे के लिए रोड के मध्य से 132 फीट की दूरी पर पोल लगाने का नियम है। इसके बावजूद हरियाली से खोड़ा मीडा तक रोड बाउण्ड्री यानि मात्र 5 से 6 फीट की परिधि में विद्युत पोल लगाए गए है। जिससे स्टेट हाईवे के निर्माण के समय दिक्कत आएगी। आसाना सरपंच पिंटू कंवर का आरोप है कि उसने डिस्कॉम अधिकारियों को लाइन शिफ्टिंग के समय रोड बाउण्ड्री में पोल नहीं लगाने से अवगत करवाते हुए काम भी रुकवाया था। इसके अलावा सायला उपखण्ड अधिकारी को ज्ञापन देकर नियम विरुद्ध हो रही शिफ्टिंग को रोकने की मांग की थी की है। लेकिन अभी तक प्रशासन द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई है। सरपंच ने रोड बाउण्ड्री में मनमर्जी से लगाए पोल हटाने एवं इसका खर्चा ठेकेदार एवं जिम्मेदार अधिकारियों से वसूलने की मांग की है।
हाईवे पर होगी परेशानी
आसाणा ग्राम पंचायत के बोरवाड़ा गांव से गुजरने वाला बागोड़ा रोड स्टेट हाईवे 16 बी के रूप में सार्वजनिक निर्माण विभाग द्वारा घोषित हो रखा है। जिसमें स्टेट हाईवे के निर्माण के समय सड़क सीमा में आने वाले विद्युत पोलों को हटाया जाता है। जिसका डिस्कॉम द्वारा एस्टीमेट देने पर सार्वजिनक निर्माण विभाग द्वारा शिफ्टिंग की राशि भरी जाती है।लेकिन खोड़ामीडा में डिस्कॉम के अधिकारियों द्वारा स्टेट हाईवे रोड होने के बाद भी सड़क किनारे शिफ्टिंग कर पोल खड़े किए गए। जिस कारण रोड निर्माण के समय पोल शिफ्टिंग करने पर सार्वजनिक निर्माण विभाग को डिस्कॉम में पैसे भरने पड़ेंगे। ऐसे में अगर डिस्कॉम के अधिकारियों द्वारा नए सिरे से लगाए जा रहे रोड बाउण्ड्री से दूर लगाए जाए तो अनावश्यक खर्च से बचा जा सकता है।
इनका कहना है...
बडली जीएसएस के पास डिस्कॉम ने रोड बाउण्ड्री में मात्र 5 फीट की दूरी पर विद्युत पोल खड़े किए हैं। जबकि हमने इसका विरोध किया, लेकिन अधिकारियों ने एक नहीं सुनी। पोल हटाए जाएं।
-इंद्रसिंह राठौड़, ग्रामीण बोरवाड़ा
डिस्कॉम अधिकारियों एवं ठेकेदार ने मिलकर कुछ व्यक्तियों को फायदा पहुंचाने के लिए रोड बाउण्ड्री में लाइनों का शिफ्टिंग कार्य करवा दिया। बागोड़ा रोड स्टेट हाइवे घोषित है, ऐसे में नए लगने वाले पोलों को नियमानुसार रोड बाउण्ड्री से दूर लगाना चाहिए था। मैंने सीएम व ऊर्जा मंत्री से शिकायत की है।
-पिंटू कंवर, सरपंच आसाना
बागोड़ा रोड स्टेट हाइवे 16 घोषित है। यह सभी विभागों के अधिकारियों की जानकारी में है। हालांकि निर्माण कब शुरू होगा, मुझे इसकी जानकारी नहीं है। स्टेट हाईवे के नियमानुसार में सड़क के मध्य से 132 फीट छोड़कर पोल लगाने चाहिए।
-शंकरलाल सुथार, जेईएन, पीडब्ल्यूडी, सायला
डिस्कॉम के अधिकारियों द्वारा सार्वजिनक निर्माण विभाग के अधिकारियों से बात हुई थी, लेकिन उन्होंने सीमांकन नहीं करवाया है। जिस कारण शिफ्टिंग में पोलों को लगा दिया है।
-जितेंद्र तोमर, एईएन, डिस्कॉम, सायला

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned