जालोर में पहली बार होगा सर्वधर्म विवाह सम्मेलन

जालोर में पहली बार होगा सर्वधर्म विवाह सम्मेलन
First time in Jalore all religious marriage program will be done

Dharmendra Ramawat | Publish: Jul, 09 2018 11:07:05 AM (IST) Jalore, Rajasthan, India

शाह सेवा विकास समिति के तत्वावधान में जालोर में पहली बार होगा सर्वधर्म सामूहिक विवाह सम्मेलन

जालोर. हमारे देश में आज भी जातिवाद, कुरीतियों और आडम्बर के कारण शादी व अन्य समारोह में लाखों और करोड़ों रुपए फिजूल खर्च किए जाते हैं। जिसके बोझ तले गरीब और निम्न वर्ग के लोग दबते जा रहे हैं। ऐसे में सभी धर्मों और समुदायों को एकजुट करना जरूरी है। यह बात रविवार को स्वर्णकार समाज न्याति नोहरा में शाह विकास सेवा समिति के तत्वावधान में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान संत भजनाराम ने कही। उन्होंने कहा कि पाली और ब्यावर के बाद जालोर में पहली बार सर्व धर्म सामूहिक विवाह सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा जो साम्प्रदायिक सद्भाव का बेमिसाल सद्प्रयास है। इसमें सभी वर्गों के लोगों को तन-मन-धन से योगदान करना चाहिए। तभी यह आयोजन सफल हो पाएगा। समिति अध्यक्ष रफीक मोहम्मद शाह ने बताया कि आगामी 2 सितम्बर को जिला मुख्यालय पर समिति की ओर से सर्व धर्म सामूहिक विवाह सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा। जिसमें जिले के विभिन्न धर्म के 251 जोड़ों को परिणय सूत्र में बांधने का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने बताया कि समिति विभिन्न जिलों में ऐसे आयोजन करवा चुकी है। 16 सितम्बर को ब्यावर में 210 व 8 अप्रेल 2018 को पाली में 226 जोड़ों का सामूहिक विवाह करवाया गया। कार्यक्रम में बंशीलाल सोनी, नगरपरिषद उपसभापति मंजू सोलंकी व जगदीश चौधरी ने भी विचार व्यक्त किए। इस मौके मांगीलाल पनुसा, दलाभाई राव, हीरालाल माली, शंकर भादरू, हरीश मेघवाल, मनोहर राणा, कुम्भाराम परमार, हनीफ खान, भीकाराम, विष्णु, ओमप्रकाश दहिया, मुनीर खान, वाहिद अब्बासी, बाबूभाई, रजाक, हनीफ मोहम्मद, पवन उस्ताक, गोपाल माली, रुस्तम अली, इरफान व जसवंत परिहार समेत अन्य मौजूद थे।
यह है समिति का उद्देश्य
कार्यक्रम में समिति अध्यक्ष रफीक मोहम्मद ने कहा कि इस आयोजन का मुख्य उद्देश्य यह है कि समिति से जुड़कर गरीब, बेवा व आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के परिवार विवाह करवा सकें। वहीं दहेज और फिजूल खर्च से उन्हें बचाया जा सके। उन्होंने बताया कि इस आयोजन में गरीब ही नहीं, बल्कि धनाढ्य वर्ग के लोग भी शामिल हो सकते हैं।
जोड़ों को देंगे उपहार
समिति के तत्वावधान में होने वाले इस समारोह में जुडऩे वाले प्रत्येक जोडे को 50 गज का आवासीय प्लॉट, राज्य सरकार के तहत 15 हजार रुपए की बैंक एफडी, दो सोने व तीन चांदी के आभूषण, टीवी, बेड, कूलर, सिलाई मशीन, गैस सिलेण्डर, चूल्हा, अलमारी, चौकी, 2 कुर्सी, गद्दा, बेडशीट, कम्बल, दो तकिए, प्रेस, दीवार घड़ी, 21 बर्तन और दूल्हा-दुल्हन का जोड़ा सहित विभिन्न घरेलू वस्तुएं उपहार स्वरूप दी जाएंगी। इसके लिए वर-वधु पक्ष को निर्धारित राशि देकर पंजीयन करवाना होगा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned