गलीफा में चार दिन से चल रहा धरना समाप्त

गलीफा में चार दिन से चल रहा धरना समाप्त
Strick finish runing from four days in Galifa

Dharmendra Ramawat | Updated: 08 Aug 2018, 11:27:15 AM (IST) Jalore, Rajasthan, India

सांचौर विधायक ने पीईईओ जानवी के प्रतिनिधि व ग्रामीणों के साथ मुलाकात कर शिक्षकों को लगाया

हाड़ेचा. क्षेत्र के गलीफा गांव में पिछले चार दिन से शिक्षकों की नियुक्ति की मांग को लेकर चल रहा अभिभावकों और विद्यार्थियों का धरना मंगलवार को समाप्त हुआ। सांचौर विधायक सुखराम विश्नोई ने धरना स्थल पर पहुंचकर डीईओ से वार्ता की। जिसके बाद जानवी पीईईओ प्रतिनिधि धोलाराम के साथ एक शिक्षक की नियुक्ति के आदेश करवाए। वहीं विद्यालय के एक शिक्षक को अन्य विद्यालय में नियुक्ति के आदेश निरस्त करवाए। साथ ही मेडिकल लीव पर चल रहे दो शिक्षकों को भी विद्यालय में नियमित सेवा के लिए पाबंद कर धरने को समाप्त करवाया। गौरतलब है कि शिक्षकों की मांग को लेकर तीन अगस्त से अभिभावक विद्यालय की तालाबंदी कर धरने पर बैठे थे। इसके बाद कार्यवाहक पीईईओ ने यहां से एक और शिक्षक को हटा दिया था। ऐसे में ३२० छात्रों की शिक्षण व्यवस्था केवल दो शिक्षकों के भरोसे होने से अभिभावकों में रोष था। ऐसे में विधायक विश्नोई ने ग्रामीणों व अभिभावकों के समर्थन में उच्चाधिकारियों से बात की। साथ ही पीईईओ से दूरभाष पर विरोध जताते हुए समस्या का समाधान करवाया। इस दौरान ग्रामीणों व अभिभावकों ने शिक्षा विभाग के अधिकारियों पर शिथिलता का आरोप लगाते हुए चार दिन से धरने के बावजूद समस्या नहीं सुनने पर नाराजगी जताई। वहीं ग्रामीणों व अभिभावकों ने विधायक का समस्या समाधान करने पर आभार जताया। विश्रोई ने विद्यालय पहुंचकर विद्यार्थियों को लक्ष्य के अनुरूप शिक्षा प्राप्त करने की नसीहत दी। इसी तरह विधायक निकटवर्ती मटरवा गांव भी पहुंचे। यहां पहुंचने के दौरान ग्रामीणों और अभिभावकों की समस्या सुनी। वहीं बंद विद्यालय में भी हटवाए गए एक शिक्षक की नियुक्ति को लेकर विधायक ने डीईओ से दूरभाष पर बात की। जिसके बाद यहां भी एक शिक्षक की नियुक्ति करवाई गई। इस मौके एसएमसी अध्यक्ष कोहलाराम, मालमसिंह, मनोहरसिंह, बाबूलाल विश्नोई, नारायणसिंह, मोड़सिंह, करणसिंह, भंवरसिंह व हनुमानाराम गोदारा सहित कई ग्रामीण और अभिभावक मौजूद थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned