साधु-संतों व श्रद्धालुओं की मौजूदगी में विधि विधान से हुआ गादी तिलक

साधु-संतों व श्रद्धालुओं की मौजूदगी में विधि विधान से हुआ गादी तिलक

Dharmendra Kumar Ramawat | Publish: Sep, 12 2018 10:33:43 AM (IST) Jalore, Rajasthan, India

आशाभारती का गादी तिलक कर उन्हें उम्मेदाबाद के शीलेश्वर मठ के महंत की पदवी दी गई

उम्मेदाबाद/केशवना. जिले के प्राचीन शीलेश्वर मठ उम्मेदाबाद के 20वें महंत आशाभारती महाराज का मंगलवार को विधि विधान व वैदिक मंत्रोच्चार के साथ गादी तिलक समारोह संत महात्माओं व श्रद्धालुओं की मौजूदगी में सम्पन्न हुआ।
शीलेश्वर मठ के 19वें महंत रावतभारती महाराज के कैलाशगमन पर उनके उतराधिकारी के रूप में उनके शिष्य आशाभारती का गादी तिलक कर उन्हें महंत की पदवी दी गई। महंताई की चादर का कार्यक्रम मंगलवार को सवेरे प्रधान आचार्य तरूण दवे सहित दर्जनों आचार्यों के विधि विधान एवं मंत्रोच्चार के साथ हुआ। यहां विधि विधान से आशाभारती को चादर प्रदान की गई। चादर की शुरूआत ग्रामीणों की जयघोष व बेंड-बाजों की धुन पर महिलाओं के मंगल गान किया। बाकरा के भैरूसिंह चंपावत की ओर से चादर प्रदान की गई। चादर कार्यक्रम में आए 108 गांवों के श्रद्धालुओं, संत महात्माओं व जिले भर के जनप्रतिनिधियों की उपस्थ्िित में 20वें महंत आशाभारती को माला पहनाकर स्वागत चादर की रस्म पूरी की गई।
इनका रहा सान्निध्य
कार्यक्रम में महंत गंगानाथ महाराज जालोर, महंत रणछोड़भारती महाराज लेटा, पुनासा से बाबूगिरी महाराज, गजीपुरा से प्रेमभारती महाराज, बडग़ांव से लहरभारती, भालणी मठ से देवगिरी महाराज, पांडगरा से परबतगिरी महाराज, मांडवला से लालभारती महाराज, मल्केश्वर मठ जालोर से सेवा भारती महाराज, वालेरा से पारसभारती महाराज, आहोर से सुन्दरपुरी, चेंंडा से पदमाराम महाराज, सरत से नारायणस्वरूप महाराज, ऐलाना से राजेन्द्रभारती, दुर्गाराम महाराज केशवना, रामेश्वरभारती, मंगलभारती, शंभुभारती गोल मठ, सहित कई साधु-संत मौजूद थे। वहीं धर्म सभा के दौरान भैरूसिंह बाकरा, नारायणसिंह केशवना, भवानीसिंह बाकरा, शैतानसिंह पोषाणा, भगवत सिंह बावतरा, शैतानसिंह धनानी, सायला सरपंच सुरेश राजपुरोहित, लक्ष्मणसिंह ऐलाणा, भगवतसिंह बावतरा, परबतसिंह कतरोसन, कल्याण सिंह बोकड़ा, माधाभारती आलासन, लच्छीराम माली, जीतमल जैन, जयंतिलाल, गजाराम राणा, नगेंद्र कुमार यति आईदानराम सुथार, दामोदर खत्री, पोलाराम चौधरी, पहाड़सिंह, रूपसिंह, गजाराम घांची धोराढाणी, दलपतसिंह, दौलतसिंह खरल, भोलाराम माली, छैलसिंह रावणा राजपूत, मोहन माली, उम्मेदाबाद चौकी से एएसआई हनवंतसिंह भाटी समेत सैकड़ों की संख्या में सर्व समाज के भक्तगण एवं श्रद्धालु मौजूद थे । इस मौके श्रद्धालुबों ने महाप्रसादी ग्रहण की।
महंत का जीवन परिचय
शीलेश्वर मठ उम्मेदाबाद के 20वें महंत आशाभारती का सांसारिक नाम आसुसिंह है। इनके पिता बहादुरसिंह व माता ऐसी कंवर है। इनका जन्म आकोली के चौहान राजपूत परिवार में हुआ।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned