शव के साथ 16 घंटे तक जीएसएस पर किया प्रदर्शन, समझाइश पर माने ग्रामीण

शव के साथ 16 घंटे तक जीएसएस पर किया प्रदर्शन, समझाइश पर माने ग्रामीण
Villagers Performed on GSS for 16 hours with the dead body

Dharmendra Ramawat | Updated: 17 Jul 2018, 11:05:42 AM (IST) Jalore, Rajasthan, India

ग्रामीणों का था आरोप- विभागीय अधिकारियों को सूचित करने के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं होने से हुआ हादसा

सांचौर. डभाल गांव में करंट से बालिका की मौत के मामले में दोषी डिस्कॉम कार्मिकों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर बालिका के परिजनों के साथ ग्रामीणों ने सोमवार को डिस्कॉम के 132 जीएसएस मुख्यालय के समक्ष प्रदर्शन कर घेराव किया। इस दौरान ग्रामीणों ने दोषी अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग की। ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि विभाग के अधिकारियों को सूचित करने के बावजूद भी कोई कार्रवाई नहीं की। जिसकी वजह से बालिका की मौत हो गई। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने अतिरिक्त जाप्ता घटनास्थल पर तैनात कर दिया। वहीं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक बींजाराम मीणा, एसडीएम राजेन्द्र डागा, सांचौर डिवाईएसपी फाऊलाल मीणा, थानाधिकारी मानकराम ने घटना स्थल पर जाकर ग्रामीणो से समझाइश का प्रयास किया। लेकिन ग्रामीण मामले में कार्रवाई की मांग पर अड़ गए। इस दौरान सांसद देवजी पटेल व पूर्व विधायक जीवाराम चौधरी भी घटनास्थल पर पहुंचे। सांसद ने डिस्कॉम के अधिशाषी अभियंता को मौके पर बुलाया। वहीं मुख्य अभियन्ता से फोन पर वार्ता कर समस्या से अवगत करवाया। जिस पर मुख्य अभियन्ता ने दोषी कार्मिकों के खिलाफ कार्रवाई का भरोसा दिलाया। इस दौरान सांसद पटेल के अधिकारियो व ग्रामीणो के बीच हुई वार्ता व समझाइश के बाद ग्रामीण शव उठाने के लिये राजी हुए। जिस पर सोमवार प्रात: करीब ११ बजे शव को 132 केवी जीएसएस मुख्यालय के गेट से हटाया गया।
रातभर जारी रहा धरना
डभाल में आठ वर्षीय बालिका के मौत के मामले को लेकर ग्रामीण शव लेकर पूरी रात 132 केवी जीएएस के मुख्य गेट पर लेकर बैठे रहे। इस दौरान रात्रि को बारिश होने पर ग्रामीणों ने शव के लिए टेन्ट की व्यवस्था भी की। इस दौरान ग्रामीणो ने प्रशासन की उदासीनता को लेकर रोष जाहिर किया।
सांसद की भी नहीं सुनी डिस्कॉमकर्मियों ने
डभाल में 8 वर्षीय बालिका की करंट से मौत के मामले में डिस्कॉम के अधिकारियों की लापरवाही का अदंाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि सांसद देवजी पटेल द्वारा अधिकारियों को संभावित खतरे को लेकर पूर्व में निर्देश देने के बावजूद भी विभाग ने इसे गंभीरता से नहीं लिया। वहीं मृतका के परिजनों ने आरोप लगाया कि रविवार 12 बजे के करीब डिस्कॉम के तार में विद्युत करंट प्रवाहित होने व तार के नीचे गिरे होने की सूचना अधिकारियों को चार घंटे तक लगातार देने के बावजूद भी कोई सुनवाई नहीं हुई। जिसके चलते शाम को चार बजे यह बालिका हादसे की शिकार हो गई। परिजनों ने दोषी कार्मिकों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।
यह था मामला
डभाल के दीतोल का गोलिया निवासी अंकिता (८) पुत्री नरसीराम डिस्कॉम के जमीन पर पड़े तारो में करंट प्रवाहित होने के दौरान उसकी चपेट में आ गई। जिससे उसकी मौत हो गई।
इनका कहना...
डिस्कॉम का मामला था। जिसको लेकर ग्रामीणों व विभाग के अधिकारियों के बीच आपसी समझाइश के बाद मामला सुलझ गया है।
- राजेन्द्र डागा, एसडीएम सांचौर

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned