नजरबंद कश्मीरी नेताओं से मिले परिजन, बाहर आकर सुनाया दुखड़ा

Jammu Kashmir Situation: 30 नजरबंद नेताओं को बीते रविवार को ही श्रीनगर की सेंटोर होटल से यहां एम.एल.ए हॉस्टल भेजा (Jammu Kashmir Leaders) गया है, परिजनों (Amit Shah On Kashmir) ने उनसे मिलकर बताया कि...

(श्रीनगर): अनुच्छेद 370 को बेअसर किए जाने के बाद शांति व्यवस्था के लिहाज से नजरबंद किए गए कश्मीरी नेताओं के परिजनों ने बुधवार को श्रीनगर के एम.एल.ए हॉस्टल जाकर उनसे मुलाकात की।

 

Video: सब सोते रहे, कमरे में सैर करता रहा तेंदुआ, लोगों ने यूं बचाई जान


बाहर आकर उन्होंने मीडिया से बातचीत करते हुए हॉस्टल में सुविधाओं के अभाव की बात कही। पूर्व मंत्री और पीडीपी नेता नईम अख्तर की बेटी ने कहा कि यह इमारत दोषपूर्ण है जिसमें बुनियादी सुविधाओं का अभाव है। इन नेताओं के लिए एक स्वच्छ स्थान होना चाहिए। यहां हिटिंग और उचित प्रकाश की व्यवस्था नहीं है।

 

यह भी पढ़ें: राहुल गांधी को राखी बांधती हैं यह विधायक, बड़े राजनीतिक घराने में होने जा रही है शादी

 

वहीं एनसी नेता और पूर्व एमएलसी बशीर वीरी के भाई तनवीर वीरी ने कहा कि इन सभी नेताओं को जम्मू के एम.एल.ए हॉस्टल या श्रीनगर की सेंट्रल जेल में भेज देना चाहिए। सेंट्रल जेल बड़ी होने के कारण वहां सही इंतजाम है वहीं जम्मू में श्रीनगर के मुकाबले कम ठंड रहती है। वहीं कई लोगों ने भोजन की गुणवत्ता पर भी सवाल उठाए। बता दें कि इन 30 नेताओं को बीते रविवार को ही श्रीनगर की सेंटोर होटल से यहां एम.एल.ए हॉस्टल भेजा गया है।

जम्मू-कश्मीर की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्ल्कि करें...

यह भी पढ़ें: कश्मीर में All is Well पर इस शर्त पर ही मिलेगा इंटरनेट

Show More
Prateek Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned