scriptUP Crime Father Came Home Threw his Own Children in Well | पत्नी पढ़ रही थी नमाज, घर आकर पति बोला- 'मैंने बच्चों को फेंक दिया कुएं में', तड़पती मां की चीख ने सबको झकझोरा | Patrika News

पत्नी पढ़ रही थी नमाज, घर आकर पति बोला- 'मैंने बच्चों को फेंक दिया कुएं में', तड़पती मां की चीख ने सबको झकझोरा

जफराबाद थाना क्षेत्र के नेपुरा गांव में रविवार देर रात एक पिता ने अपने ही बच्चों को कुएं में फेंक दिया। पत्नी ने जब पूछा तब उसने बताया कि बच्चों को कुएं में फेंक दिया है। ऐसा कहते समय उसके चेहरे पर पछतावा या कोई शिकंज नहीं थी।

जौनपुर

Published: April 25, 2022 01:04:52 pm

उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले से एक बड़ी घटना सामने आई है। जफराबाद थाना क्षेत्र के नेपुरा गांव में रविवार देर रात एक पिता ने अपने ही बच्चों को कुएं में फेंक दिया। पत्नी ने जब पूछा तब उसने बताया कि बच्चों को कुएं में फेंक दिया है। ऐसा कहते समय उसके चेहरे पर पछतावा या कोई शिकंज नहीं थी। मामले की जानकारी होने पर पुलिस ने आरोपी पिता को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है।
UP Crime Father Came Home Threw his Own Children in Well
UP Crime Father Came Home Threw his Own Children in Well
नेपुरा गांव में इरफान चार-पांच साल पहले सऊदी से आया था। वर्तमान में वह जफराबाद बाजार में एक चलनी बेचने वाले की दुकान पर काम करता था। जिसके लिए उसे एक हजार रुपये प्रति माह मिलता है। पत्नी शाहिना बानो ने पुलिस को बताया कि रोज की तरह उसका पति दुकान पर काम करने के लिए गया था। दोपहर करीब 12 बजे वह खाना खाने घर आया, तब वह नमाज पढ़ रही थी। इस दौरान इरफान दोनों बच्चों सायमा (7) और अरमान (5) को साथ ले गया।
यह भी पढ़ें

UP Police SI Exam: 9534 पदों पर भर्ती के लिए 25 अप्रैल से परीक्षा, इस पैटर्न पर होगा एग्जाम, जानें कब जारी होंगे एडमिट कार्ड

मानसिक हालत ठीक नहीं

शाहिना ने बताया कि उसे लगा इरफान दोनों बच्चों को बाहर कुछ खिलाने ले गया है। शाम को करीब चार बजे जब वह घर लौटा तो बच्चों के बारे में पूछने पर बताया कि उन्हें कुएं में फेंक कर मार दिया। बच्चों को घर से 50 मीटर दूर बने कुएं में जाकर फेंका। इसके बाद वह काम पर चला गया। जानकारी होने पर परिवार में कोहराम मच गया। गांव के लोगों ने बताया कि इरफान की मानसिक हालत ठीक नहीं है। लेकिन इस बात की जांच की गई तो पुलिस को ऐसा लगा नहीं कि इरफान मानसिक रूप से बीमार है।
यह भी पढ़ें

30 अप्रैल के बाद सड़कों पर नहीं दिखेंगे ऑटो-टैक्सी स्टैंड, संचालकों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई

ताकि बच्चों को न फैलाना पड़े हाथ

शाहिना के बताया कि वह रात में जग कर बीड़ी बनाती थी, ताकि बच्चों को काम या खाने के लिए किसी के सामने हाथ न फैलाना पड़े। लेकिन उसने रृकभी नहीं सोचा था कि उसका पति ही अपने बच्चों की जान का दुश्मन बन जाएगा। उधर, पुलिस घटना की जांच कर रही है। पुलिस के अनुसार, दोनों की शादी 9 वर्ष पहले हुई थी। शादी में कोई समस्या नहीं थी। दोनों की जिंदगी हंसी खुशी कट रही थी।
सऊदी से वापस आने के बाद नहीं गया वापस

इरफान ने कई वर्षों तक सऊदी अरब में काम किया। वहां से वापस आने के बाद वह दोबारा वापस नहीं गया। परिवार वालों ने कहा कि वह तनाव में रहता था, जिससे कि उसकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं थी। वहीं, घर की आर्थिक स्थिति को संभालने के लिए पत्नी शाहिना ने घर में बीड़ी बनाना शुरू कर दिया। कुछ वर्षों तक सब कुछ ठीक रहा लेकिन रविवार रात पति की हरकत से बच्चों की मौत के बाद घर मे कोहराम मच गया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

बुध जल्द वृषभ राशि में होंगे मार्गी, इन 4 राशियों के लिए बेहद शुभ समय, बनेगा हर कामज्योतिष: रूठे हुए भाग्य का फिर से पाना है साथ तो करें ये 3 आसन से कामजून का महीना किन 4 राशियों की चमकाएगा किस्मत और धन-धान्य के खोलेगा मार्ग, जानेंमान्यता- इस एक मंत्र के हर अक्षर में छुपा है ऐश्वर्य, समृद्धि और निरोगी काया प्राप्ति का राजराजस्थान में देर रात उत्पात मचा सकता है अंधड़, ओलावृष्टि की भी संभावनाVeer Mahan जिसनें WWE में मचा दिया है कोहराम, क्या बनेंगे भारत के तीसरे WWE चैंपियनफटाफट बनवा लीजिए घर, कम हो गए सरिया के दाम, जानिए बिल्डिंग मटेरियल के नए रेटशादी के 3 दिन बाद तक दूल्हा-दुल्हन नहीं जा सकते टॉयलेट! वजह जानकर हैरान हो जाएंगे आप

बड़ी खबरें

'तमिल को भी हिंदी की तरह मिले समान अधिकार', CM स्टालिन की अपील के बाद PM मोदी ने दिया जवाबहिन्दी VS साऊथ की डिबेट पर कमल हासन ने रखी अपनी राय, कहा - 'हम अलग भाषा बोलते हैं लेकिन एक हैं'Asia Cup में भारत ने इंडोनेशिया को 16-0 से रौंदा, पाकिस्तान का सपना चूर-चूर करते हुए दिया डबल झटकाअजमेर की ख्वाजा साहब की दरगाह में हिन्दू प्रतीक चिन्ह होने का दावा, पुलिस जाप्ता तैनातबोरवेल में गिरा 12 साल का बालक : माधाराम के देशी जुगाड़ से मिली सफलता, प्रशासन ने थपथपाई पीठममता बनर्जी का बड़ा फैसला, अब राज्यपाल की जगह सीएम होंगी विश्वविद्यालयों की चांसलरयासीन मलिक के समर्थन में खालिस्तानी आतंकी ने अमरनाथ यात्रा को रोकने की दी धमकीलगातार दूसरी बार हैदराबाद पहुंचे PM मोदी से नहीं मिले तेलंगाना CM केसीआर
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.