अधिकमास के कारण चातुर्मास एक माह आगे

चातुर्मास: तीज त्योहार में भी आएगा अंतर

By: harisingh gurjar

Updated: 24 Jul 2018, 01:18 PM IST

सुनेल. इस बार अधिकमास होने के कारण सृष्टि के पालनहार भगवान विष्णु एक माह देरी से आएंगे। इससे चातुर्मास भी एक माह देरी से आगे बढ़ जाएगा। इन चार माह में आने वाले तीज-त्योहार 10 से 15 दिन आगे बढ़ जाएंगे। पिछले वर्ष की तुलना में पर्व 10 से 15 की देरी से आएंगे। सनातन परम्परा के अनुसार देवशयनी एकादशी पर भगवान विष्णु चार माह तक क्षीरसागर में विश्राम करते हैं। सृष्टि के संचालन की बागडोर भगवान शिव संभालते है। इसके बाद त्योहारों की श्रृंखला चलेगी। देवउठनी एकादशी 19 नवम्बर को होगी।
यह है चार्तुमास
सनातन परम्परा में देवशयनी एकादशी से देवउठनी एकादशी तक का समय चातुर्मास कहा जाता है। इन चार माह में देव आराधना की जाती है। इसी अवधि में कई तीज-त्यौहार भी आते है इस दौरान मंागलिक कार्य पूर्णतया वर्जित होते है।साधना-आराधना में लीन होते है। साधु-सन्यासी इन चार माह में एक ही स्थान पर रहकर साधना करते है।
वैवाहिक कार्यक्रमों पर आज से लगा विराम
चातुमार्स के कारण वैवाहिक कार्यक्रमों पर भी विराम लग गया। पंडित सोहन जोशी ने बताया कि देवशयनी एकादशी के साथ विवाह, गृहप्रवेश, मुंडन सहित बड़े मंागलिक कार्य बंद हो गए। इसकी शुरूआत देवउठनी एकादशी के बाद ही होगी। देवउठनी एकादशी पर गुरू अस्त होने के कारण नवम्बर माह में भी विवाह मुहूर्त नही है दिसम्बर में भी विवाह के दो ही शुभ मुहूर्त रहेंगे।
ऐसे आयेगे त्यौहार......
23 जुलाई को देवशयनी एकादशी
27 जुलाई को गुरू पूर्णिमा
28 जुलाई को श्रावण मास आरम्भ
11 अगस्त हरियाली अमावस्या
15 अगस्त नागपंचमी
26 अगस्त रक्षाबंधन
02 सितंबर कृष्ण जन्माष्टमी
13 सितंबर गणेश चतुर्थी
23 सितंबर अनंत चतुर्दशी
10 अक्टूबर शारदीय नवरात्र
19 अक्टूबर दशहरा
24 अक्टूबर शरद पूर्णिमा
05 नवम्बर धनतेरस
07 नवम्बर दीपावली
19 नवम्बर देवउठनी एकादशी

 

 

सुनेल. अखिल भारतीय धाकड़ महासभा क्षेत्र की बैठक लालगांव में स्थित समाज के नेहरे में आयोजित की गई। जिसके मुख्य अतिथि महासभा के जिलाध्यक्ष हीरालाल धाकड़ थे।
अध्यक्षता सुनेल क्षेत्र के अध्यक्ष तुलसीराम धाकड़ ने जबकि विशिष्ठ अतिथि राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य गोविन्द धाकड़, धरणीधर विकास एंव सेवा समिति के अध्यक्ष नाथूलाल धाकड़, समाज के कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष प्रहलाद नागर,छात्रावास समिति के अध्यक्ष मानसिंह धाकड़, युवा अध्यक्ष कारूलाल धाकड़, बालाराम धाकड़,फूलचंद धाकड़, प्रहलाद, कालूलाल, गंगाराम, दौलतराम, घीसालाल धाकड़, चेतन धाकड़ थे।जिसमें समाज सुधार विभिन्न कुरीतियों को समाप्त करने सहित शिक्षा के क्षेत्र तथा छात्रावास में बालकों की शिक्षा पर विचार किया गया। वही धरणीधर विकास एंव सेवा समिति की प्रगाति रिपोर्ट एंव आय-व्यय का ब्यौरा सचिव दौलतराम धाकड़ ने पेश कर आगामी कार्य योजना बनाई गई। इसी के साथ नए अध्यक्ष भगवानसिंह धाकड़ को मनोनीत किया। बैठक में लडानियां गांव के शहीद मुकुट मीणा को को श्रद्धांजलि दी गई।

harisingh gurjar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned