scriptRajasthan Rain Alert: Air pollution will go away only when it rains in Rajasthan | Rajasthan Rain Alert: इतने दिन में सक्रिय होने वाला है पश्चिमी विक्षोक्ष, फिर बारिश से दूर होगा इतना बड़ा खतरा, जानिए कैसे | Patrika News

Rajasthan Rain Alert: इतने दिन में सक्रिय होने वाला है पश्चिमी विक्षोक्ष, फिर बारिश से दूर होगा इतना बड़ा खतरा, जानिए कैसे

locationजोधपुरPublished: Dec 26, 2023 03:05:20 pm

Submitted by:

Rakesh Mishra

Rajasthan Rain Alert पश्चिमी विक्षोभ के गुजरने के दो दिन बाद वातावरण में आए स्थायित्व ने वायु प्रदूषण को न्योता दे दिया। मौसम विभाग के अनुसार अब 4 दिन बाद तीस दिसम्बर को फिर से पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने के बाद बरसात होने से मौसम साफ होगा, तब तक वायु में प्रदूषण बरकरार रहेगा।

rain_alert_01.jpg
Rajasthan Rain Alert पश्चिमी विक्षोभ के गुजरने के दो दिन बाद वातावरण में आए स्थायित्व ने वायु प्रदूषण को न्योता दे दिया। मौसम विभाग के अनुसार अब 4 दिन बाद तीस दिसम्बर को फिर से पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने के बाद बरसात होने से मौसम साफ होगा, तब तक वायु में प्रदूषण बरकरार रहेगा। दो दिन पहले पश्चिमी विक्षोभ गुजरने के बाद वातावरण में स्थायित्व आ गया। वायुमण्डल की ऊपरी और निचली हवाओं में वेंटिलेशन बंद हो गया, जिससे वायुमण्डल के निचले स्तरों पर छोटे छोटे कण जमा हो गए। यह कार्बन, धूल, जल वाष्प, विभिन्न गैसें हैं, जिनके कारण सांस लेने में दिक्कत हो रही है।

कोहरा भी, कुंआसा भी, धुंध भी...
पूरे प्रदेश में सोमवार को मिला जुला मौसम रहा। कोहरा (फोग) थी, कुंआसा (मिस्ट) भी था और धुंध (हेज) भी छाई हुई थी। कोहरे और कुंआसा दोनों ही जमी हुई जलवाष्प है। फर्क विजिबिलिटी में है। कोहरे में विजिबिलिटी एक हजार मीटर से कम रहती है। धुंध में वातावरण में शुष्क कण रहते हैं जो आंखों से दिखाई नहीं देते हैं।
300 से ऊपर एक्यूआई वाले जिले
भीलवाड़ा (327), बीकानेर (340), बूंदी (353), चितौडग़ढ़ (314), धौलपुर (304), हनुमानगढ़ (387), जयपुर (342), जैसलमेर (340), झालावाड़ (337), झुंझनूं (309), करौली (322), कोटा (365), नागौर (310), प्रतापगढ़ (314), राजसमंद (309), श्रीगंगानगर (313)
200 से ऊपर एक्यूआई वाले जिले
अजमेर (213), अलवर (180), बांसवाड़ा (294), बारां (289), बाड़मेर (227), चूरू (269), दौसा (274), जालोर (274), जोधपुर (253), पाली (210), सीकर (202), टोंक (258) और उदयपुर (269)।

200 के नीचे वाले जिले
सवाई माधोपुर (186), सिरोही (162), डूंगरपुर (109)
यह भी पढ़ें

IMD Orange and Yellow Alert : मौसम विभाग की बड़ी चेतावनी, 3 जिलों में ऑरेंज तो 7 के लिए येलो अलर्ट जारी, जानिए क्यों

इनका कहना है
दो दिन पहले सिस्टम गुजरने के बाद वातावरण में स्थायित्व आने की वजह से प्रदूषक बढ़ गए हैं। हवा भी कमजोर हो गई है। नया सिस्टम आने के बाद बारिश होने से आसमां साफ हो जाएगा।
आरएस शर्मा, निदेशक, भारतीय मौसम विभाग, जयपुर

ट्रेंडिंग वीडियो