साबरमती की तर्ज पर कानपुर में अटलघाट से जाजमऊ तक बनेगा गंगा रिवर फ्रंट

- प्रयागराज, वाराणसी में भी तैयारियां तेज, बढ़ेगा रोजगार और पर्यटन

By: Abhishek Gupta

Updated: 01 Oct 2020, 06:23 PM IST

कानपुर. योगी सरकार (CM Yogi) ने कानपुर (Kanpur) में गंगा किनारे रिवर फ्रंट (Ganga River front) बनाने के आदेश दे दिए हैं। कानपुर स्थित अटलघाट से लेकर जाजमऊ तक गुजरात के साबरमती की तर्ज पर रिवर फ्रंट का निर्माण कार्य जल्द ही शुरू होगा। सीएम योगी ने इसको लेकर कानपुर के अधिकारियों संग रुपरेखा तैयार कर ली है। रिवर फ्रंट के निर्माण से न सिर्फ कानपुर की खूबसूरती में चार चांद लगेंगे, बल्कि गंगा भी और स्वच्छ होगी। यह रिवरफ्रंट कानपुर में गंगा बैराज से जाजमऊ तक 15 किलोमीटर लंबा होगा। तटों के किनारे पार्क, बच्चों के लिए झूले, रेस्टोरेंट बनाए जाएंगे। इससे यहां आने वाले पर्यटकों को घूमने और बैठने के लिए एक बेहतर स्थान उपलब्ध हो सकेगा। भाजपा विधायक सुरेंद्र मैथानी ने बताया कि सीएम योगी ने इस परियोजना को जल्द से जल्द पूरा किए जाने के आदेश दिए हैं। रिवर फ्रंट बनने से पर्यटक बड़ी संख्या में आएंगे।

ये भी पढ़ें- बलरामपुर मामलाः डीएम ने मृतका के परिवार को दिया 6.18 लाख का चेक, पोस्टमार्टम रिपोर्ट है हैरान करने वाली

कानपुरवासी खुश-
इस घोषणा से कानपुर वासियो में काफी उत्साह देखने को मिल रहा है। कृष्णा तिवारी का कहना है कि गंगा रिवर फ्रंट बनने से शहर की खूबसूरती तो बढ़ेगी ही, गंगा की और स्वच्छ होगी। वहीं सुजीत सिंह चैहान कहते हैं कि इसी वर्ष पीएम नरेंद्र मोदी कानपुर आए थे। गंगाबैराज से स्टीमर में सवार होकर उन्होंने गंगा की स्वच्छता परखी थी। तभी उन्होंने गंगा को पर्यटन क्षेत्र के रूप में विकसित किए जाने के निर्देश सीएम योगी को दिए थे।

सांसद ने कहा- पर्यटन को मिलेगा बढ़ावा-
कानपुर के सांसद सत्यदेव पचैरी ने बताया कि साबरमती और लखनऊ रिवर फ्रंट की तर्ज पर अब कानपुर में भी रिवर फ्रंट बनने जा रहा है। सीएम योगी ने कानपुर में गंगा तट पर खूबसूरत रिवर फ्रंट बनाने के निर्देश दिए हैं। सांसद ने कहा कि गंगा नदी के किनारे रिवर फ्रंट के बनने से पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा और कानपुर की खूबसूरती में भी इजाफा होगा।

ये भी पढ़ें- 15 अक्टूबर से खुलेंगे स्कूल-कॉलेज, यूपी में पहले इन कक्षाओं की आएगी बारी, इतने घंटे चलेंगी क्लासेस

लखनऊ में बना है गोमती रिवर फ्रंट-
इससे पहले पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के कार्यकाल के दौरान 2017 में राजधानी लखनऊ में गोमती रिवर फ्रंट का निर्माण कराया जा चुका है। इसे भी साबरमती फ्रंट की तरह ही विकसित करने की बात कही गई थी। बता दें साबरमती रिवर फ्रंट को गुजरात के अहमदाबाद शहर की साबरमती नदी के किनारे बनाया गया है। लखनऊ और साबरमती रिवर पर हर दिन सैकड़ों पर्यटक आते हैं।

प्रयागराज, कानपुर, वाराणसी में भी बनेंगे रिवर फ्रंट
योगी सरकार प्रयागराज, वाराणसी में भी रिवर फ्रंट बनाने की तैयारी कर रही है। इसके तहत तटों के किनारे पार्क, बच्चों के लिए झूले, रेस्टोरेंट बनाए जाएंगे। इससे यहां आने वाले पर्यटकों को घूमने और बैठने के लिए एक बेहतर स्थान उपलब्ध हो सकेगा। गौरतलब है कि वाराणसी और प्रयागराज में काफी संख्या पयर्टक घूमने आते हैं।

Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned