पानी के लिए परेशान महिलाओं ने किया जलदाय कार्यालय में हंगामा

पानी के लिए परेशान महिलाओं ने किया जलदाय कार्यालय में हंगामा

Anil dattatrey | Publish: Sep, 07 2018 11:27:00 PM (IST) Karauli, Rajasthan, India

www.patrika.com/rajasthan-news/


अभियंताओं को सुनाई खरी-खोटी

 

हिण्डौनसिटी. पेयजल किल्लत से परेशान बनकी रोड स्थित गोमती कॉलोनी की महिलाओं ने शुक्रवार को जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग कार्यालय पहुंच हंगामा कर दिया। गुस्साई महिलाओं ने नलों में पानी नहीं आने की बात कहते हुए विरोध-प्रदर्शन किया। तथा अभियंताओं के खिलाफ जमकर नारे लगाए। उन्होने मौके पर मौजूद अभियंता व कर्मचारियों को भी खरी-खोटी सुनाई। महिलाओं ने आरोप लगाया कि विभाग नलों में पानी नहीं आने के बावजूद बिल तो समय पर भेज देता है, लेकिन पेयजल आपूर्ति पर ध्यान नहीं दे रहा।


दोपहर करीब एक बजे महिलाएं जलदाय विभाग कार्यालय पहुंची तथा अधिशासी अभियंता कार्यालय के मुख्यद्वार पर बैठ गई। उन्होंने समझाईश करने आए विभागीय अभियंता व कर्मचारियों को खरी-खोटी सुनाते हुए कहा कि नल कनेक्शन का बिल भेजने में तो देर नहीं करते और पानी भेजने के लिए सुध नहीं ले रहे। काफी देर बाद महिलाएं वहां से खडा होकर सहायक अभियंता कार्यालय के बाहर जमा हो गई। जहां उन्होंने अभियंताओं के खिलाफ नारे लगाए। उन्होंने बताया कि पुराने नलों में कई माह से पानी नहीं आ रहा है, जबकि बिल प्रतिमाह भेज दिया जाता है। महिलाओं ने बताया कि विभाग की ओर से नए नल कनेक्शन तो दो माह पहले कर दिए, लेकिन उनमें अभी तक पानी नहीं पहुंचा है। जिससे लोगों को पेयजल किल्लत का सामना करना पड़ रहा है। लोगों को प्यास बुझाने के लिए मजबूरी में कैम्पर खरीदने पड़ रहे है। उन्होने बताया कि जल्द ही समस्या का समाधान नहीं हुआ तो बयाना रोड पर ***** जाम किया जाएगा। इस दौरान सुशीलादेवी, गीता, फूलवती, नत्थी, चन्द्रीदेवी आदि महिलाएं मौजूद थी।

बारिश में भरभराकर टूटी पाटोरपोश
पटोंदा गांव में बारिश के चलते गत दिवस एक पाटोरपोश की पट्टियां भरभरा की टूट गई। इससे उसमेंं रखा हजारों रुपए का घरेलू सामान टूट गया। गनीमत रही िउस दौरान पाटोरपोश में काई नहीं था, वर्ना जनहानि हो जाती।
पीडि़त मदनमोहन ने बताया कि गुरुवार को बारिश के दौरान वह परिवार के साथ पास आंगन में स्थित दूसरी पाटोरपोश में बैठा था। अचानक पास स्थित तीन गह पाटोरपोश की पट्ट्यिां टूटकर गिर गई। पाटोरपोश के पास बंध रहे गाय-बछड़ा बाल-बाल बच गए। पट्टियों के टूट कर गिरने से करीब10 हजार का चारा बारिश में बह गया। तथा पाटोरपोश के दूसरे हिस्से में रखा घरेलू सामान चारपाई, बर्तन, आदि उसमें दब कर टूट गए। पटवारी रामवीर सिंह ने शुक्रवार को मौके पर पहुंच बारिश में पाटोरपोश टूटने से हुए नुकसान का जायजा लिया। इस मामले पीडि़त परिवार के मुखिया मदनमोहन ने थाने में रपट दर्ज कराई है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned