आरोपियों की धमकी के चलते गांव से पलायन कर गया बलात्कार पीडि़ता का परिवार

आरोपियों की धमकी के चलते गांव से पलायन कर गया बलात्कार पीडि़ता का परिवार

Anil dattatrey | Publish: Sep, 07 2018 11:41:47 PM (IST) Karauli, Rajasthan, India

www.patrika.com/rajasthan-news/

जाटव समाज के लोगों ने किया प्रदर्शन,पुलिस महानिदेशक को भेजा पत्र


हिण्डौनसिटी . सोमला गांव में दलित किशोरी से बलात्कार के बाद आरोपियों की ओर से दी जा रही धमकियों के चलते पीडि़ता का परिवार गांव से पलायन कर गया है। जबकि सूरौठ पुलिस आरोपी को अभी तक गिरफ्तार नहीं कर सकी है। इससे क्षेत्र के दलितों में रोष व्याप्त है। शुक्रवार को चौबीसा क्षेत्र के जाटव समाज के लोगों ने ढिंढोरा गांव स्थित एक मूर्ति बस्ती में विरोध-प्रदर्शन किया। तथा पुलिस महानिदेशक को पत्र भेज कर आरोपी को गिरफ्तार करने तथा पीडि़त परिवार को सुरक्षा मुहैया कराने की मांग की।


समाज के अध्यक्ष राधाकृष्ण जाटव ने बताया कि एक सितम्बर की रात को गांव के गरीब दलित परिवार की १५ वर्षीय किशोरी के साथ वहीं के दबंग परिवार के युवक मोनू जाट ने बलात्कार किया। जिसकी प्राथमिकी पीडि़ता ने सूरौठ थाने में दर्ज कराई। इससे कुपित आरोपी व उसके परिवार ने पीडि़ता के परिवार पर राजीनामा के लिए दवाब बनाना शुरु किया। लेकिन राजीनामे से इनकार करने पर आरोपियों ने पीडि़ता व उसके परिवार को जान से मारने की धमकी दी। उन्होंने बताया कि आरोपियों की धमकी से डरा-सहमा परिवार गांव से पलायन कर गया। फिलहाल पीडि़त परिवार दूसरे गांव में अपने रिश्तेदार के घर रह रहा है। महामंत्री पुरुषोत्तम बंशीवाल ने बताया कि अगर आरोपियों को जल्द ही गिरफ्तार कर पीडि़त परिवार को न्याय नहीं दिलाया तो जाटव समाज की ओर से आंदोलन किया जाएगा। इस दौरान वार्ड पंच भगवानसिंह, राजकुमार, कुम्हेरसिंह, प्रतापसिंह, किशनसिंह समेत दर्जनों लोग मौजूद थे।

इधर मामले की जांच कर रहे पुलिस उपाधीक्षक जयसिंह नाथावत ने बताया कि आरोपी की गिरफ्तारी के लिद कई बार दबिश दी गई, लेकिन वह फिलहाल फरार है। संभावित ठिकानों पर तलाश की जा रही है। पीडि़त परिवार के पलायन करने की जानकारी नहीं है। पीडि़ता व उसके परिवार को जल्द ही न्याय दिलाया जाएगा।

हिण्डौनसिटी. विजयपुरा गांव में चल रही भागवत कथा में प्रवचन सुनने के लिए ग्रामीणों का हुजूम उमड रहा है। संगीतमय भजनों से क्षेत्र में भक्तिरस की बयार बह रही है।
आयोजन समिति के जगदीश प्रसाद ने बताय कि कथावाचक पुरूषोत्तम शरण शर्मा ने शुक्रवार को उद्धव-गोपी संवाद सुनाया। उन्होने प्रवचनों में कहा कि चंचल मन वाले व्यक्ति का प्रभू की भक्ति का अवसर नहीं मिलता है। इसके लिए अध्यात्म के साथ तन्मयता होना जरूरी है। इस दौरान सजाई गई राधा-कृष्ण व शिव-पार्वती की झांकी के दर्शनों के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned