पेयजल सप्लाई सुचारू नहीं हो सकी, लोग​ शिकायत करने पहुंचे तो मीना ने कहा— मैं 24 घंटे तो वहां बैठा नहीं रह सकता

https://patrika.com/karauli-news/

By: Vijay ram

Published: 24 Jul 2018, 09:43 PM IST

करौली.
ऐसे में जबकि बारिश आए दिन हो रही है, जलदाय विभाग पीने के पानी की सप्लाई पर गंभीर ही नहीं है। टोडाभीम की ज्यादातर कॉलोनियों के लोग पेयजल को भटकते—फिर रहे हैं...

 

शहर के केंगनापाडा, जोशीपाडा, गुदडी बाजार, मल्लूपाडा एवं काजीपाड़ा सहित आधा दर्जन कॉलोनियों के बाशिंदे पेयजल समस्या से त्रस्त हैं। यहां पानी पहुंचा तो सही, लेकिन फाइलों में ही। अब परेशान उपभोक्ता नाहरखोहरा रोड स्थित जलदाय विभाग के सहायक अभियंता कार्यालय शिकायत लेकर बार—बार जा रहे हैं।

 

यहां सहायक अभियंता राजेन्द्र मीना कार्यालय में नहीं मिले। इस पर उपभोक्ताओं ने कनिष्ठ अभियंता अनिल नायर को बताया कि उन्हें चार दिन से पानी नहीं मिल रहा। लोगों ने सहायक अभियंता राजेन्द्र मीना से दूरभाष पर बात की तो उन्होंने बताया कि ट्यूबवैल की मोटर जल जाने से पेयजल आपूर्ति ठप है। सोमवार को 10 बजे से पेयजल आपूर्ति सुचारू कर दी जाएगी, लेकिन मंगलवार को जब 11 बजे तक भी कालोनियों के नलों में पानी नही आया तो उपभोक्ता जलदाय विभाग के सीडब्लूआर पंप हाउस पहुंचे।

 

यहां सीडब्लूआर पंप हॉउस बंद मिला और पेयजल आपूर्ति के लिए बनाई गई सप्लाई पुस्तिका वहां पड़ी मिली। इस पुस्तिका में कॉलोनियों की जलापूर्ति को सवा बारह बजे से सवा बजे तक पूर्ण करना दर्शाया हुआ था, जबकि उस समय 11 बजकर 45 मिनट हुए थे। यहां कर्मचारी ड्यूटी से नदारद थे। पंप हाउस का ट्यूबवैल बिजली आने पर भी बंद था। इस पर उपभोक्ताओं ने पुन: कनिष्ठ अभियंता नायर से इस लापरवाही के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि विभाग के कर्मचरियों द्वारा उनके रजिस्टर में कॉलोनियों में प्रतिदिन जलापूर्ति को दर्शाया जा रहा है, जबकि कॉलोनियों में 4 दिन से एक बूंद भी पानी आया है। उपभोक्ताओं ने पेयजल सप्लाई करने वाले कर्मचारी को बदलने की भी मांग की है।

 

उपभोक्ताओं ने पेयजल आपूर्ति करने वाले कार्मिकों पर आपूर्ति में भेदभाव बरतने का भी आरोप लगाया। दूरभाष पर सहायक अभियंता ने एक घंटे में पेयजल आपूर्ति नियमित करने के लिए कहा, जबकि समाचार लिखे जाने तक भी पेयजल सप्लाई सुचारू नहीं हो सकी। सहायक अभियंता राजेन्द्र मीना ने कहा कि मैं 24 घंटे तो वहां बैठा नहीं रह सकता। यदि कर्मचारी द्वारा लापरवाही की जा रही है तो उसके विरुद्ध नोटिस देकर कार्रवाई की जाएगी। कनिष्ठ अभियंता अनिल नायर ने बताया कि मैंने आज ही पदभार ग्रहण किया है। मैं सप्लाई पुस्तिका मंगवाकर देखता हूं, जो उचित कार्रवाई होगी उसके लिए उच्चाधिकारियों को अवगत कराया जाएगा।

 

संवाददाता के अनुसार, टोडाभीम में पेयजल आपूर्ति के नाम पर कर्मचारी द्वारा सप्लाई से पूर्व ही भरी गई लॉग बुक एवं उपभोक्ताओं द्वारा फोटो लेने के बाद कर्मचारी द्वारा सप्लाई का समय काटा गया।

Vijay ram
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned