चुनावी साल, मतदाता सूची में नाम देखने पहुंचे लोग

चुनावी साल, मतदाता सूची में नाम देखने पहुंचे लोग

Deepak Sharma | Publish: Aug, 13 2018 07:00:00 AM (IST) Kota, Rajasthan, India

जिले के 1418 मतदान केंद्रों पर चहल-पहल

- कई जगह देरी से पहुंचे बूथ लेवल अधिकारी

 

कोटा. मतदान केंद्रों पर पुनरीक्षण कार्यक्रम के तहत विशेष अभियान चलाकर रविवार को नए नाम जोडऩे-हटाने और संशोधन करने का कार्य किया गया। मतदान केन्द्रों पर बूथ लेवल अधिकारी सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे तक मतदान केन्द्र पर उपस्थित रहे। कई मतदान केन्द्रों पर बीएलओ के देरी से पहुंचने की शिकायतें आई, वहीं कई मतदान केद्रों में परीक्षा होने के कारण बीएलओ को बिठाने की आस-पास ही वैकल्पिक व्यवस्था की गई। इस कारण लोगों को ढूंढऩे में थोड़ी परेशानी भी हुई। जिले के सभी 1418 मतदान केंद्रों पर पूरे दिन बीएलओ ने उपस्थित रहकर मतदाता सूची में नाम जोडऩे, हटाने एवं शुद्धीकरण करवाने के आवेदन प्राप्त किए।

ऐसा क्या हुआ जो बंद कमरे में मिली बुजुर्ग महिला की लाश...जानने के लिए पढि़ए खबर

जिला निर्वाचन अधिकारी गौरव गोयल के निर्देशन में जिले के समस्त उपखण्ड अधिकारी, तहसीलदार एवं पर्यवेक्षकों ने सघन भ्रमण कर मतदान केंद्रों का निरीक्षण किया।

सैनिकों व वीरांगनाओं का सम्मान देश के लिए सर्वोपरि

 

अतिरिक्त कलक्टर प्रशासन वासुदेव मालावत ने बताया कि जिला निर्वाचन अनुभाग में नियंत्रण कक्ष बनाया गया। इस पर सुबह 9 बजे से ही कर्मचारी टेलीफ ोन पर आने वाली शिकायतों का निस्तारण करते रहे।
पूरे जिले में कहीं भी किसी बूथ लेवल अधिकारी के अनुपस्थित रहने की सूचना प्राप्त नहीं हुई।

चुनावी वर्ष होने के कारण आमजनता भी अपना नाम मतदाता सूची में में देखने के लिए उत्सुक रही। अच्छी तादाद में लोग मतदान केंद्रों तक पहुंचे और अपना नाम मतदाता सूची में देखा।

उधर, कांग्रेस के प्रदेश महामंत्री पंकज मेहता ने आरोप लगाया कि तलवंडी स्थित मां भारती स्कूल में परीक्षा के कारण बीएलओ को बाहर धूप में ही बैठना पड़ा। कई बीएलओ सुबह 9 बजे पर नहीं पहुंचे। शिकायत करने पर कोई 10 बजे, कोई साढ़े दस बजे तो कोई 11 बजे तक पहुंचा। घर-घर वितरित किए तिरंगे, सम्मान से फहराने का आग्रह

ऐसा क्या हुआ जो बंद कमरे में मिली बुजुर्ग महिला की लाश...जानने के लिए पढि़ए खबर

 

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned