भगवान के दर ले जाने के लिए ट्रेन तैयारी, हवाई सैर अटकी

भगवान के दर ले जाने के लिए ट्रेन तैयारी, हवाई सैर अटकी
भगवान के दर ले जाने के लिए ट्रेन तैयारी, हवाई सैर अटकी

ritu shrivastav | Updated: 27 Sep 2017, 05:44:39 PM (IST) Kota, Rajasthan, India

दीनदयाल उपाध्याय वरिष्ठजन यात्रा योजना की लॉटरी निकाली। 1090 यात्री हवाई तीर्थ करेंगे, निर्धारित यात्रियों में से करीब 25 फीसदी कोटा संभाग से।

पंडित दीनदयाल उपाध्याय वरिष्ठजन नागरिक तीर्थ यात्रा योजना के लिए मंगलवार को कोटा समेत संभाग भर में लॉटरी निकाली गई। देवस्थान विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार यात्रा के लिए पहली ट्रेन 28 अक्टूबर को दुर्गापुरा स्टेशन जयपुर से रामेश्वरम के लिए रवाना होगी। इस वर्ष कोटा जिले के 1508 यात्रियों समेत 4819 कुल वरिष्ठजन यात्रा पर जाएंगे। हवाई जहाज से यात्रा की तिथि फिलहाल तय नहीं है।

Read More: राष्ट्रीय पक्षी मोर की जान बचाने के लिए किया आंखों का ऑपरेशन, डॉक्टर ने निकाली 70 ग्राम की गांठ

कहां से कितने जाएंगे

कोटा जिले से 4233 वरिष्ठजनों के आवेदन आए थे। इनमें से 330 को हवाई व 1178 को ट्रेन से यात्रा करवाई जाएगी। जिले से कुल 1508 वरिष्ठजन तीर्थ करेंगे। झालावाड़ से 4207 लोगों ने आवेदन किया। यहां से 365 वरिष्ठजन हवाई मार्ग से यात्रा और 1090 ट्रेन से जाएंगे। कुल 1455 यात्री तीर्थ करेंगे। बूंदी से 1598 वरिष्ठजनों ने आवेदन किया। इनमें से 164 को हवाई मार्ग व 406 को ट्रेन से यात्रा करवाई जाएगी। इस तरह से कुल 570 यात्री तीर्थ कर सकेंगे। बारां जिले के 3 हजार 672 लोगों ने आवेदन किया। इनमें से 232 को हवाई यात्रा और 406 ट्रेन से तीर्थ यात्रा पर जाएंगे। बारां से कुल 1286 यात्री तीर्थ करने जाएंगे।

Read More: समोसे खा रहा था कंपाउंडर, केनुला बदलने को कहा तो फोड़ दिया तीमारदार का सिर

यात्रा की मोटी गणित

सरकार इस वर्ष प्रदेशभर से कुल 20 हजार वरिष्ठजनों को तीर्थ यात्रा करवाएगी। इसमें से 4819 यात्री संभाग के शामिल रहेंगे। इस दृष्टि से कुल यात्रियों की संख्या में से 25 प्रतिशत वरिष्ठजन संभाग से यात्रा करेंगे। कोटा जिले से हवाई यात्रा करने वाले कुल 365 यात्री शामिल हैं। इस वर्ष कोटा संभाग से यात्रा के लिए आवेदन भरते समय 65 व इससे अधिक की आयु के लिए सरकार ने हवाई यात्रा करने का ऑप्शन रखा था। कुल 20 हजार में से 5 हजार यात्रियों को हवाई मार्ग से यात्रा करवाई जानी है।

Read More: शिक्षकों की सरकार में राठौड़ बने अध्यक्ष व मेहरा हुए उपाध्यक्ष

इन स्थानों में से एक तीर्थ

वैष्णोदेवी, रामेश्वरम, गया काशी, सम्मेदशिखर, बिहारशरीफ, जगन्नाथपुरी, शिरडी, गोवा, तिरुपति, रामेश्वरम, पटनासाहिब, श्रवणबेलगोला, द्वारिका में से किसी एक तीर्थ की यात्रा कराई जाएगी। इनमें से रामेश्वरम, तिरुपति, द्वारिका, जगन्नाथपुरी समेत 10 स्थान है जहां यात्री हवाई जहाज से तीर्थ कर सकेंगे। पहली यात्रा
रामेश्वरम की होगी!


Read More: OMG: 15 दिन की जान पहचान में छोडा सात जन्मों का बंधन

हवाई यात्रा की तारीख तय नहीं

देवस्थान विभाग के सहायक आयुक्त महेन्द्र देवतवाल ने कहा कि
वरिष्ठजन यात्रा योजना के तहत लॉटरी निकाल दी गई है। लॉटरी के अन्तर्गत संभाग से 4819 लोगों का चयन हुआ है। यात्रा की पहली ट्रेन जयपुर से 28 अक्टूबर को रवाना होगी। हवाई यात्रा के लिए फिलहाल तारीख निर्धारित नहीं हुई है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned