दिव्यांग फ्रेंडली होंगे कोटा के पर्यटन स्थल, सेवन वंडर्स में व्हील चेयर से घूम सकेंगे

कलक्टर की पहल,दिव्यांग अब कोटा के पर्यटन एवं धार्मिक स्थलों पर आने जाने के लिए किसी के मोहताज नहीं रहेंगे।

By: Suraksha Rajora

Published: 03 Dec 2019, 06:30 AM IST

कोटा. दिव्यांग अब कोटा के पर्यटन एवं धार्मिक स्थलों पर आने जाने के लिए किसी के मोहताज नहीं रहेंगे। जिला कलक्टर ओम कसेरा ने दिव्यांग दिवस को बेहद खास बनाते हुए दिव्यांगों को बेहद खास तोहफा दिया है। अब दिव्यांग व्हील चेयर के साथ पर्यटक स्थलों पर प्रवेश कर आराम से घूम फिर सकेंगे। इसकी शुरुआत मंगलवार से सेवन वंडर्स पार्क से होगी। फिर जिले के सभी पर्यटन स्थलों को दिव्यांग फ्रेंडली बनाया जाएगा।

राजस्थान पत्रिका ने समाजिक एवं अधिकारिता विभाग और नगर विकास न्यास के साथ मिलकर दिव्यांगों के ख्वाबों को पंख लगाने के लिए रविवार को सेवन वंडर्स पार्क में चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया था। कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए जिला कलक्टर ओम कसेरा ने जब दिव्यांगों से मुलाकात कर उनकी परेशानियां पूछी तो दिव्यांग मीनाक्षी और उसके साथियों ने सेवन वंडर पार्क सहित तमाम जगहों पर व्हील चेयर अंदर ले जाने पर पाबंदी लगाए जाने की जानकारी दी।


जिम्मेदार तलब, दिया आदेश
शहर के सबसे प्रमुख पर्यटक स्थल पर दिव्यांगों के दाखिल होने पर लगी अजीब तरह की रोक से परेशान जिला कलक्टर ओम कसेरा ने तत्काल पार्क के केयर टेकर अजय शर्मा को तलब किया और उनसे इसकी वजह पूछी। अजय शर्मा ने बताया कि पार्क में लगी घास पर लोग व्हील चेयर लेकर चले जाते थे जिसकी वजह से घास खराब हो रही थी।

जिस पर जिला कलक्टर ने नाराजगी जताते हुए कहा कि पार्क की देखभाल के लिए जब गार्ड लगे हैं तो फिर इस तरह की वजह के चलते दिव्यांगों का हक नहीं छीना जा सकता। उन्होंने अजय शर्मा को निर्देश दिए कि किसी भी दिव्यांग को व्हील चेयर अंदर लाने से न रोका जाए। इसके साथ ही जो दिव्यांग और बुजुर्ग बिनी व्हील चेयर के यहां आते हैं उनके लिए भी व्हील चेयर का इंतजाम किया जाए। इसके बाद जिला कलक्टर ने सेवन वंडर पार्क में रैलिंग का भी निरीक्षण कर उसे दिव्यांगों के लिए और भी सुविधाजनक बनाने के निर्देश दिए।


सभी जगह हो सहूलियत
जिला कलक्टर ओम कसेरा ने मातहतों को निर्देश दिए कि कोटा के सभी पर्यटक एवं धार्मिक स्थलों को दिव्यांगों के अनुकूल बनाया जाए। दिव्यांगों को घूमने फिरने में कोई दिक्कत न आए इसके लिए पर्याप्त इंतजाम किए जाएं। जब हमारे पास दिव्यांग फ्रेंडली जगहें होंगी तो कोटा और हाड़ौती नहीं प्रदेश और देश के इस बड़े यायावरों के वर्ग को हम कोटा की ओर मोड़ सकेंगे। इससे न सिर्फ पर्यटन क्षेत्र में रोजगार के अवसर बढ़ेंगे बल्कि आर्थिक विकास भी रफ्तार पकड़ेगा। जिला कलक्टर के आदेश पर मंगलवार से सेवन वंडर्स पार्क में दिव्यांग व्हील चेयर लेकर प्रवेश कर सकेंगे।

Show More
Suraksha Rajora
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned