श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की झांकी रोकने पर दो पक्षों में तनाव, पुलिस ने लाठीचार्ज कर लोगों को खदेड़ा

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की झांकी रोकने पर दो पक्षों में तनाव, पुलिस ने लाठीचार्ज कर लोगों को खदेड़ा

Akhilesh Tripathi | Publish: Sep, 07 2018 10:30:32 PM (IST) Kushinagar, Uttar Pradesh, India

पुलिस की एकपक्षीय कार्रवाई से लोगों में गुस्सा

कुशीनगर. रामकोला थाना क्षेत्र का माघी मठिया गांव शुक्रवार को पूरे दिन सामप्रदायिक तनाव से तपता रहा । दोनों समुदायों के लोग लाठी-डंडे, धारदार हथियार लेकर गोलबंदी करते रहे। श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर बनाए गए डोल ( भगवान श्रीकृष्ण की झांकी) को लोग काली मंदिर तक ले जाना चाह रहे थे लेकिन दूसरे समुदाय के लोग वहां डोल ले जाने से रोक दिए थे। इससे नाराज हिंदू समुदाय के लोग काली मंदिर से कुछ ही मीटर की दूरी पर डोल रखकर धरना देने लगे। शाम को पुलिस ने धरना दे रहे लोगों पर लाठीचार्ज कर डोल को जबरिया उठवा दिया। पुलिस की एकपक्षीय कार्रवाई से बहुसंख्य समुदाय में रोष है। एसडीएम पडरौना के बयान ने लोगों के अंदर प्रदेश सरकार के प्रति भी रोष भर दिया।

रामकोला थाना के गांव माघी मठिया में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर श्रद्धालु भगवान श्रीकृष्ण की झांकी सजा रखा गया थे। शुक्रवार को झांकी का विसर्जन होना था। श्रद्धालु डोल को गांव का भ्रमण कराते हुए काली मंदिर तक ले जाना चाहते थे। परंतु काली मंदिर से करीब 20 मीटर पहले अल्पसंख्य समुदाय के लोगों ने डोल को रोक दिया। इसके बाद गांव में सामप्रदायिक तनाव पैदा हो गया। दोनों समुदायों में गोलबंदी शुरू हो गई। लाठी-डंडों से लेकर दोनों पक्षों के लोग धारदार हथियारों हथियारों से लैस हो गए।

गांव में तनाव को देखते हुए प्रशासन ने घरों की छतों से लेकर चप्पे -चप्पे पर पुलिस तैनात कर दिया। एसडीएम पडरौना गुलाब चंद की मौजूदगी में शाम को करीब 4.15 बजे धरने पर बैठे श्रद्धालुओं पर लाठीचार्ज कर दिया। पुलिस ने महिलाओं को भी नही बख्शा। पुलिस की एक पक्षीय कार्रवाई से हिंदू समुदाय के लोगों में जबरदस्त रोष है। श्रद्धालुओं को उम्मीद थी कि योगी आदित्यनाथ के शासनकाल में उनकी धार्मिक भावनाओं का ख्याल रखा जाएगा, लेकिन एसडीएम ने यह कह श्रद्धालुओं के गुस्से को भड़का दिया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का स्पष्ट निर्देश है कि कोई नई परम्परा नहीं डाली जाएगी।

 

BY- A. K. MALL

Ad Block is Banned