भारत को 6 महीने तक कच्चा तेल दे सकते हैं मुकेश अंबानी, इतनी है एशिया के सबसे अमीर शख्स की कुल संपत्ति

भारत को 6 महीने तक कच्चा तेल दे सकते हैं मुकेश अंबानी, इतनी है एशिया के सबसे अमीर शख्स की कुल संपत्ति

| Publish: Jan, 03 2019 10:01:49 AM (IST) कॉर्पोरेट

रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ना केवल भारत के बल्कि एशिया के सबसे अमीर शख्स हैं। अंबानी की संपत्ति इतनी है कि वह 82.60 करोड़ बैरल क्रूड ऑयल खरीद सकते हैं, यानी वह पूरे भारत के लिए 6 महीने तक इस्तेमाल होने लायक कच्चा तेल खरीद सकते हैं।

नई दिल्ली। रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ना केवल भारत के बल्कि एशिया के सबसे अमीर शख्स हैं। फोर्ब्स द्वारा जारी की गई लिस्ट के अनुसार उद्योगपति मुकेश अंबानी दुनिया के 12वें सबसे अमीर आदमी भी हैं। ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के अनुसार 2018 में उन्होंने 2,807 अरब रुपए की कमाई की। उनकी नेट वर्थ 44.3 बिलियन डॉलर यानी 3 लाख करोड़ रुपए से भी ज्यादा है। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि मुकेश अंबानी अपनी निजी संपत्ति से क्या कुछ खरीद सकते हैं।


पूरे भारत के लिए खरीद सकते हैं कच्चा तेल

अंबानी की संपत्ति इतनी है कि वह 82.60 करोड़ बैरल क्रूड ऑयल खरीद सकते हैं, यानी वह पूरे भारत के लिए 6 महीने तक इस्तेमाल होने लायक कच्चा तेल खरीद सकते हैं। बता दें मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज दुनिया की सबसे बड़ी क्रूड ऑयल रिफाइनिंग कंपनी है। इंटरनेशनल एनर्जी एजेंसी (IEA) के आंकड़ों के मुताबिक, भारत में हर रोज 46 लाख बैरल ऑयल का इस्तेमाल होता है। ऐसे में अगर मुकेश अंबानी चाहें तो भारत की जनता के लिए वह 6 महीने तक कच्चा तेल खरीद सकते हैं।


भारत के कुल गोल्ड रिजर्व से दोगुना सोना खरीद सकते हैं अंबानी

इतना ही नहीं, मुकेश अंबानी के पास इतना पैसा है कि वह उससे 10,76,180.30 किलो या 1,076 टन सोना खरीद सकते हैं, जो भारत के कुल गोल्ड रिजर्व यानी 560 टन से दोगुना है। बता दें कि रिलायंस इंडस्ट्रीज में मुकेश अंबानी के करीब 40 फीसदी शेयर हैं। मुनाफे और मार्केट वैल्यू के मामले में यह भारत की सबसे बड़ी कंपनी है। वहीं, मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया की कीमत करीब 14 हजार करोड़ रुपए आंकी गई है।


इन देशों की GDP से भी ज्यादा है अंबानी की संपत्ति

अंबानी की संपत्ति भारत के लिए 6 महीने तक कच्चा तेल खरीद पाना और कुल गोल्ड रिजर्व से दोगुना सोना खरीद पाने तक ही सीमित नहीं है, बल्कि उनकी संपत्ति एशिया के दो देशों अफगानिस्‍तान और भूटान की कुल जीडीपी (GDP) से भी ज्‍यादा है। किसी भी देश की जीडीपी उसके अर्थव्यवस्था के आकार का प्रतीक होती है। अंबानी अफगानिस्‍तान और भूटान जैसे देशों की इकॉनोमी को अपनी शक्ति से आगे ले जा सकते हैं।

Read the Latest Business News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले Business News in Hindi की ताज़ा खबरें हिंदी में पत्रिका पर।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned