Mukesh Ambani ने शुरू की पिता की पुरानी परंपरा, Share Holders को Dividend के साथ भेजा खास Gift

  • RIL Q1 Results से पहले हरेक Share Holders को भेजा 6.50 रुपए का Dividend
  • Dividend के साथ Reliance Foundation Hospital का 15 फीसदी का Discount Coupon भी भेजा

By: Saurabh Sharma

Updated: 30 Jul 2020, 03:14 PM IST

नई दिल्ली। कहते हैं परंपराएं या तो समय के साथ बदल जाती हैं, या फिर बंद हो जाती हैं। रिलायंस के साथ दोनों हुआ। धीरूभाई अंबानी ( Dhirubhai Ambani ) के समय में शुरू हुई परंपरा को बेटों के बंद कर दिया था, लेकिन एक बार फिर से बदले हुए स्वरूप में दोबारा शुरू किया। जी हां, यह परंपरा है हर साल कंपनी शेयर होल्डर्स को डिविडेंड ( Share Holders Dividend ) के साथ डिस्काउंट कूपन ( Reliance Discount Coupon ) भेजना। काफी सालों के बाद एक बार फिर रिलायंस इंडस्ट्रीज ने शेयर होल्डर्स ( Reliance Industries Share Holders ) को डिस्काउंट कूपन भेजा है। पहले कूपन विमल क्लोदिंग का भेजा जाता था। अब रिलायंस फाउंडेशन हॉस्पिटल का भेजा गया है, जहां पर इलाज कराने पर आपको 15 फीसदी का डिस्काउंट मिलेगा।

यह भी पढ़ेंः- Delhi में 8 रुपए से ज्यादा सस्ता हुआ Diesel, जानिए कितना कम हुआ VAT

डिविडेंड लेटर के साथ मिला कूपन
रिलायंस इंडस्ट्रीज की ओर से अपने शेयरधारकों को वर्ष 2019-20 के लिए फुली पेडअप शेयर्स पर 6.50 रुपए का डिविडेंड दिया है। जिसके साथ शेयर होल्डर्स को मेल भी भेजा गया है, जिसके नीचे एक कूपन है। जानकारी के अनुसार शेयर होल्डर्स को रिलायंस फाउंडेशन द्वारा चलाए सर एचएन रिलायंस फाउंडेशन हॉस्पटल एंड रिसर्च सेंटर, मुंबई में कुछ सर्विस में 15 फीसदी का डिस्काउंट पा सकते हैं।

यह भी पढ़ेंः- Anil Ambani के Head Office पर कब्जा करेगा यह बैंक, 2900 करोड़ के Loan Default का है मामला

यह मिलेगा डिस्काउंट
- हॉस्पिटल रूम चार्ज पर डिस्काउंट
- पैथलॉजी और रेडियोलॉजी में डिस्काउंट
- एक्सीक्यूटिव हेल्थ चेकअप में डिस्काउंट।
- मेल का प्रिंट आउट देकर फायदा लिया जा सकता है।
- कूपन 30 सितंबर 2021 तक वैलिड है।
- शेयर होन्डर्स से किसी और को ट्रांसफर नहीं कर सकते हैं।

यह भी पढ़ेंः- 9 दिन के बाद Gold हुआ सस्ता, जानिए Silver Price में गिरावट

पहले विमल फैब्रिक्स का मिलता था डिस्काउंट
जानकारों की मानें तो 90 के दशक में धीरूभाई अंबानी के समय रिलायंस शेयर होल्डर्स को डिस्काउंट कूपन दिया जाता था। यह कूपन विमल फैब्रिक्स का होता था और उसका इस्तेमाल देश के चुनिंदा विमल डीलर के पास होता था। यह कूल प्रत्येक वर्ष रिलायंस के डिविडेंड चेक के साथ दिया जाता था। बाद में इस कूपन को देना बंद कर दिया गया। काफी सालों के बाद इसे दोबारा से शुरू किया गया है।

यह भी पढ़ेंः- RIL Q1 Result : Jio के मुनाफे में हो सकता है इजाफा, ओटूसी कारोबार से मिल सकता है झटका

कर्जमुक्त हो गई है कंपनी
वास्तव इसकी शुरूआत तब शुरू की गई है जब रिलायंस इंडस्ट्रीज पूरी तरह से कर्जमुक्त हो गई है। ताज्जुब की बात तो ये है कि कंपनी को कर्जमुक्त बनाने का लक्ष्य दिसंबर 2020 रखा गया था, लेकिन कंपनी समय से 6 महीने पहले यानी 2020 में ही पूरी तरह से कर्जमुक्त हो गई। रिलायंस के साथ जियो भी कर्जमुक्त हो चुकी है। आपको बता आज कंपनी अपने तिमाही नतीजे भी जारी करने वाली है।

Show More
Saurabh Sharma Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned