इन 5 तरीकों से पता लगाएं कि कहीं आपका फोन हैक तो नहीं हो गया

कई ऐसे ऐप्स और स्पाई सॉफ्टवेयर हैं, जिनके जरिए हैकर्स आपके फोन में मौजूद निजी जानकारियां चुरा सकते हैं। हैकर्स यूजर्स के स्मार्टफोन को हैक कर फोन में मौजूद फाइनेंस की जानकारियां चुराकर आपके बैंक अकाउंट में सेंध तक लगा सकते हैं।

By: Mahendra Yadav

Updated: 21 Jul 2021, 01:49 PM IST

पेगासस विवाद ने एक बार फिर से मोबाइल स्पाई आशंकाएं बढ़ गई हैं। हालांकि आम लोगों को पेगासस जैसे स्पाई टूल से डरने की जरूरत नहीं है, लेकिन कई ऐसे ऐप्स और स्पाई सॉफ्टवेयर हैं, जिनके जरिए हैकर्स आपके फोन में मौजूद निजी जानकारियां चुरा सकते हैं। हैकर्स यूजर्स के स्मार्टफोन को हैक कर फोन में मौजूद फाइनेंस की जानकारियां चुराकर आपके बैंक अकाउंट में सेंध तक लगा सकते हैं। इन स्पाई ऐप्स की खास बात यह होती है कि ये आपके फोन में इंस्टॉल होने के बाद आसानी से नजर नहीं आते। लेकिन आप अपने फोन की गतिविधियों से पता लगा सकते हैं कि कहीं आपका फोन हैक तो नहीं हो गया है या फिर उसके जरिए कोई आपकी जासूसी तो नहीं कर रहा।

1. ऐप्स जिन्हें आपने डाउनलोड नहीं किया
आप अपने स्मार्टफोन में मौजूद ऐप्स के जरिए भी यह पता लगा सकते हैं। इसके लिए आप फोन में इंस्टॉल ऐप्स को देखें अगर आपको ऐसे ऐप्स आपके फोन में मिलते हैं, जिन्हें आपने डाउनलोड नहीं किया तो समझ जाइए कि ऐसे ऐप हैकर्स द्वारा आपके फोन में डाउनलोड किए जा सकते हैं। ऐसे में इन ऐप्स को तुरंत अपने स्मार्टफोन से डिलीट कर दें।

2. स्क्रीन पर पॉप-अप
अगर आपको अपने स्मार्टफोन की स्क्रीन पर बहुत सारे पॉप—अप नजर आते हैंं तो उन पर कभी भी क्लिक न करें। ये एडवेयर के कारण हो सकता है। एडवेयर एक प्रकार का सॉफ्टवेयर होता है, जो आपके स्मार्टफोन की स्क्रीन को विज्ञापनों से भर देता है। अगर आप उन लिंक में से किसी पर क्लिक करेंगे तो मुसीबत में पड़ सकते हैं।

यह भी पढ़ें— इन 5 आसान टिप्स से सुधार सकते हैं अपने फोन की परफॉर्मेंस

smartphone2.png

3. फोन की बैटरी

फोन की बैटरी से भी पता लगाया जा सकता है कि कहीं आपका स्मार्टफोन हैकर्स की पकड़ में तो नहीं है। अगर स्मार्टफोन की बैटरी सामान्य से ज़्यादा तेजी से खत्म हो रही है, तो हो सकता है कि आपके फोन में कोई स्पाई ऐप या स्पाई टूल मौजूद है। हालांकि बैकग्राउंड में चल रहे ऐप्स की वजह से बैटरी जल्दी खत्म हो सकती है। ऐसे में इन ऐप्स को बंद करने के बाद फिर से मॉनिटर करें।

4.फोटो,वीडियो और फ्लैश लाइटिंग
अगर आपको अपने स्मार्टफोन की गैलेरी में ऐसे फोटो और वीडियो नजर आते हैं, जो आपने नहीं लिए तो अलर्ट हो जाइए। क्योंकि ये इस बात का संकेत है कि आपके स्मार्टफोन का कैमरा हैकर्स के नियंत्रण में हो सकता है। इकसे अलावा अगर आपके फोन की फ्लैश लाइटिंग अपने आप ऑन रहती है तो भी यह इसी बात के संकेत है कि आपका स्मार्टफोन किसी और के नियंत्रण में है।

यह भी पढ़ें— स्मार्टफोन को Factory Reset करते समय रखें इन बातों का ध्यान, नहीं हो हो सकता है नुकसान

5. अपने आप क्रैश हो ऐप्स
अगर आपका फोन अजीब तरह से काम करे जैसे स्मार्टफोन में मौजूद ऐप्स अपने आप क्रैश हो रही हों या ऐप्स लोड होने में परेशानी हो। इसके अलावा अगर कोई साइट सामान्य से अलग दिख रही है तो हो सकता है कि आपके फोन में स्पाई ऐप काम कर रहा हो।

Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned