तुरंत अपडेट कर लें अपना Google Chrome ब्राउजर, हैकर्स चुरा सकते हैं आपका डेटा

गूगल क्रोम में पाई गई इस बड़े सिक्योरिटी ग्लिच के जरिए हैकर्स यूजर्स के डिवाइस को रिमोटली एक्सेस कर सकते हैं।

By: Mahendra Yadav

Updated: 19 Jul 2021, 04:29 PM IST

गूगल क्रोम एक पॉपुलर और सबसे ज्यादा इस्तेमाल किए जाने वाला वेब ब्राउजर है। वहीं गूगल ने क्रोम ब्राउजर को लेकर चेतावनी जारी की है और यूजर्स को इसे तुरंत अपडेट करने के लिए कहा है। अगर यूजर क्रोम ब्राउजर को अपडेट नहीं करते हैं तो इसके जरिए हैकर्स उनका निजी डेटा चुरा सकते हैं। दरअसल, गूगल क्रोम में हाल ही एक कमी आई थी, जिसका गलत इस्तेमाल कर हैकर्स यूजर्स का डेटा चुरा सकते हैं। हालांकि गूगल का कहना है कि उसने इस कमी को ठीक कर लिया है। गूगल क्रोम में पाई गई इस बड़े सिक्योरिटी ग्लिच के जरिए हैकर्स यूजर्स के डिवाइस को रिमोटली एक्सेस कर सकते हैं।

तुरंत अपडेट करें क्रोम ब्राउजर
जिन यूजर्स ने अपने डिवाइस में गूगल क्रोम इंस्टॉल कर रखा है, उन्हें तुरंत अपने ब्राउजर को अपडेट करने की जरूरत है। अगर यूजर गूगल क्रोम को अपडेट नहीं करते हैं तो हैकर्स यूजर्स के डिवाइस को कंट्रोल कर सकते हैं। इतना ही नहीं ब्राउजर में कमी की वजह से डेटा के एक्सपोज होने का खतरा भी हो सकता है। ऐसे में अगर आप भी क्रोम ब्राउजर का इस्तेमाल कर रहे हैं तो क्रोम के लेटेस्ट वर्जन को जल्दी से इंस्टॉल कर लें।

यह भी पढ़ें— अब हैकर्स भी हैक नहीं कर पाएंगे आपका Gmail, गूगल ला रहा नया फीचर

google_chrome.png

डार्क वेब पर बेचा जाता है डेटा
गूगल ने अपने ब्लॉग में बताया है कि क्रोम में जो बग पाया गया था, वह पहले से ही इस्तेमाल में पाया गया था, जिसका मतलब है कि यह एक zero-day vulnerability (or 0-day) है। जीरो-डे एक ऐसी सिक्यॉरिटी खामी होती है, जिसका इस्तेमाल हैकर्स उस कंपनी की जानकारी के बिना करते हैं जिसने ऐप या सर्विस बनाई है। इसमें हैकर्स डेटा चुराने के बाद उसे डार्क वेब पर लाखों डॉलर में बेचते हैं।

यह भी पढ़ें— गूगल मैसेज में आ रहा नया फीचर, अपने आप डिलीट हो जाएंगे OTP वाले मैसेज

क्रोम का यह वर्जन है इंस्टॉल तो आप सुरक्षित
जिन यूजर्स के ब्राउजर अपडेट द्वारा पैच नहीं किए गए हैं, वह उस बग से प्रभावित हो सकते हैं। ऐसे में क्रोम ब्राउजर पर ओपन-सोर्स जावास्क्रिप्ट इंजन में किसी समस्या के कारण किसी हमलावर को अपने डेटा तक पहुंचने दे सकता है। ऐसे में अपने पुराने क्रोम ब्राउजर को अपडेट कर लें या उसका लेटेस्ट वर्जन इंस्टॉल कर लें। क्रोम वर्जन को अपडेट करने के लिए Settings > Help > About Google Chrome में जाना होगा। अगर आप वर्जन 91.0.4472.164 या बाद का वर्जन चला रहे हैं, तो आप बग से सुरक्षित हैं।

Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned