यूपी में अब नहीं होगी ऑक्सीजन की कमी, सीएम योगी ने की है यह खास तैयारी

- बोकारों से लखनऊ पहुंच रही ऑक्सीजन की बड़ी खेप
- ऑक्सीजन प्लांट लगाने वालों की मदद करेगी सरकार
- वाराणसी में शुरू होगा चार मीट्रिक टन क्षमता वाला ऑक्सीजन प्लांट

By: Hariom Dwivedi

Published: 22 Apr 2021, 05:17 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
लखनऊ. कोरोना महामारी (Coronavirus) के बीच आक्सीजन की किल्लत को देखते हुए राज्य सरकार प्रदेश में 10 नये प्लांट स्थापित कर रही है। बोकारो से ऑक्सीजन (Oxygen) स्पेशल मालगाड़ी मंगाई गई है। इसके साथ जमशेदपुर व राउरकेला से भी ऑक्सीजन मंगाने की तैयारी चल रही है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने कोविड के खिलाफ लड़ाई में निजी चिकित्सा संस्थानों का सहयोग की सराहना की है। उन्होंने कहा है कि स्वयं का ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने वाले निजी क्षेत्र के चिकित्सा संस्थान अपनी जरूरत बताएं। सरकार उन्हें हर जरूरी मदद मुहैया कराई जाएगी। भविष्य की आवश्यकता के मद्देनजर हर अस्पताल को ऑक्सीजन जैसी महत्वपूर्ण सुविधा के लिहाज से आत्मनिर्भर होना होगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में नवीन ऑक्सीजन प्लांट लगाने पर राज्य सरकार द्वारा प्रोत्साहन दिया जाएगा। इस कार्य में विधायक निधि और एसडीआरएफ का भी प्रयोग किया जा सकता है।

वाराणसी : 24 घंटे में 400 सिलिंडर आक्सीजन का होगा उत्पादन
वाराणसी के रोहनिया के दरेखू में पिछले तीन साल से बंद 'अस्थाना कामरूप आक्सीजन प्लांट' को फिर से खोलने की कवायद में जिला प्रशासन व उद्योग विभाग जुट गया है। इस प्लांट के खुल जाने से 24 घंटे के अंदर 400 सिलिंडर आक्सीजन का उत्पादन रोजाना होगा। उद्योग अधिकारियों के अनुसार सब कुछ ठीक रहा तो दो सप्ताह के अंदर आक्सीजन प्लांट शुरू हो जाएगा।

यह भी पढ़ें : सांसों की सप्लाई... जानिए ऑक्सीजन सिलेंडर की एबीसी...

Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned