scriptExclusive Interview of Amitabh Thakur says Will Start Political Change from Ballia | Exclusive: जबरिया रिटायर्ड IPS अमिताभ ठाकुर बोले-बलिया से करूंगा राजनीतिक परिवर्तन की शुरुआत | Patrika News

Exclusive: जबरिया रिटायर्ड IPS अमिताभ ठाकुर बोले-बलिया से करूंगा राजनीतिक परिवर्तन की शुरुआत

उत्तर प्रदेश में सपा सरकार में सरकार के खिलाफ बगावत की शुरुआत करने वाले अमिताभ ठाकुर ने भाजपा सरकार में भी अधिकारियों के घोटाले और सरकार की बेलगाम होती लॉ एंड ऑर्डर पर जब सवाल उठाने शुरू किए जो भाजपा ने उन्हें जेल भेज दिया। अब वह भाजपा सरकार के खिलाफ खुल कर सामने आ गए हैं। अब लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुट गए हैं। इन तैयारियों में क्या खास होगा और यह कहां से चुनाव लड़ेगे इस बारे में पत्रिका ने विशेष बातचीत की।

लखनऊ

Updated: July 02, 2022 05:05:12 pm

अगले लोकसभा चुनावों में दम आजमाने का ऐलान कर चुके खुद को जबरिया रिटार्यड आईपीएस कहने वाले अमिताभ ठाकुर ने पत्रिका उत्तर प्रदेश की संवाददाता करिश्मा लालवानी से खास बातचीत की। अमिताभ ठाकुर ने हाल ही में संपन्न लोकसभा उपचुनावों के नतीजों पर बेबाक राय रखी। रामपुर और आजमगढ़ लोकसभा सीट पर हुए उपुनाव में भाजपा से कड़ी शिकस्त पाने वाली समाजवादी पार्टी को यूपी कैडर के आईपीएस रहे अमिताभ ठाकुर ने सबक लेने की नसीहत दी है। ठाकुर ने इन परिणामों को आगामी लोकसभा चुनाव का आईना मानते हुए समाजवादी पार्टी को हार से सीख लेने की नसीहत दी है। अमिताभ ठाकुर जिन्होंने उत्तर प्रदेश लोकसभा चुनाव लड़ने का ऐलान किया है, ने कहा कि जो तथ्य सामने आए हैं उसके अनुसार अखिलेश यादव ने दोनों ही जगहों पर जाना मुनासिब नहीं समझा। अब राजनीति में कॉम्पटीशन बढ़ गया है, रिमोट कंट्रोल से काम नहीं हो सकता। बता दें कि आगामी लोकसभा चुनाव के जरिये अमिताभ ठाकुर राजनीति में एंट्री लेंगे। उत्तर प्रदेश में सपा सरकार में सरकार के खिलाफ बगावत की शुरुआत करने वाले अमिताभ ठाकुर ने भाजपा सरकार में भी अधिकारियों के घोटाले और सरकार की बेलगाम होती लॉ एंड ऑर्डर पर जब सवाल उठाने शुरू किए तो भाजपा ने उन्हें जेल भेज दिया। अब वह भाजपा सरकार के खिलाफ खुल कर सामने आ गए हैं।
thakur_2.jpg
Amitabh Thakur
पहली बार चुनाव लड़ रहे हैं, इसके लिए क्या कहेंगे?

अमिताभ ठाकुर वीरों की धरती कही जाने वाली बलिया सीट से आगामी लोकसभा चुनाव और अपने राजनीतिक करियर का आगाज करेंगे। ठाकुर कहते हैं 'मैंने बलिया को इसलिए चुना है क्योंकि बागी बलिया के नाम से विख्यात यह वीरों की भूमि है और शुरू से ही परिवर्तन की भूमि मानी गई है।' बलिया को उसकी सांस्कृतिक और ऐतिहासिक पृष्ठभूमि की वजह से चुना है। यह वह स्थान है जिसने लोक प्रकाश जय नारायण जी को जन्म दिया जिन्होंने 1977 में पूरे देश में परिवर्तन की एक नई लहर पैदा की थी। चंद्रशेखर जो हमेशा समाजवादी विचारों के रहे उनका भी यह जन्मस्थान और कर्मस्थल है। इस स्थान की सेवा कर पाना मेरे लिए सौभाग्य की बात होगी।
यह भी पढ़ें - पूर्व IPS अमिताभ ठाकुर लड़ेंगे 2024 का लोकसभा चुनाव, इस सीट से ठोकेंगे ताल

लोकसभा चुनाव को कितनी चुनौती मानते हैं?

जबरिया रिटायर अमिताभ ठाकुर लोकसभा चुनाव को कितनी चुनौती मानते हैं, इस सवाल पर वह कहते हैं कि चुनाव को अंक गणित की प्रतिक्रिया से नहीं बल्कि संदेश के रूप में देखता हूं। चुनाव लड़ने के लिए एसी वाले कमरे से बाहर निकलकर जमीन पर काम करना होगा। लोगों के सुख दुख का साथी बनना होगा। अगर उसके बाद लोगों ने मुझे स्वीकार किया तो यह मेरा भाग्य होगा। मेरी कोशिश रहेगी कि मैं उनके साथ कदम से कदम मिला कर चलूं।
बीजेपी और सपा में बेहतर कानून व्यवस्था किसकी?

यूपी में चाहे जिसकी सरकार रही हो, अमिताभ ठाकुर ने हर मुद्दे को बेबाकी से उठाया है। वर्तमान और पिछली सरकार में कानून व्यवस्था की स्थिति में कितना अंतर देखने को मिलता है, इस पर ठाकुर कहते हैं कि समाजवादी पार्टी विशेषकर कानून व्यवस्था के मुद्दे पर लगातार घिरी रही। सपा सरकार में कानून व्यवस्था में ठोस कार्रवाइयों का अभाव होता था। वहीं, मौजूदा सरकार ठोस कार्रवाइयों का दावा तो करती है लेकिन यह पुलिस राज का स्वरूप ले रही है। जनता के पास कोई विकल्प नहीं है। वह चुपचाप इसे सहन करती है लेकिन बहुत सी कार्रवाइयों में पक्षपात जाता है।
प्रदेश के मौजूदा हालातों के लिए यूपी पुलिस को जिम्मेदार बताया है। अमिताभ ठाकुर ने कहा कि स्थितियां बद से बदतर हो रही हैं। जहां भी उपद्रव हुए वहां ठोस कार्रवाई होनी चाहिए, निष्पक्ष कार्रवाई नहीं होनी चाहिए। वह कहते हैं कि इस मामले में यूपी पुलिस काफी हद तक फेल हो रही है।
विधानसभा चुनाव से पहले जेल क्यों भेजा गया?

यूपी विधानसभा चुनाव से पहले अमिताभ ठाकुर को रेप पीड़िता की आत्महत्या से जुड़े मामले में गिरफ्तार कर लिया गया था। हालांकि, ठाकुर इसे अपने खिलाफ साजिश मानते हैं। उनका कहना है कि राजनीति से प्रेरित हो कर मुझे फंसाया गया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Nashik News: कंबल में लेटाकर प्रेग्‍नेंट महिला को पहुंचाया गया हॉस्पिटल, दिल दहला देने वाला वीडियो हुआ वायरलबीजेपी अध्यक्ष ने LG को लिखा लेटर, कहा - 'खराब STP से जहरीला हो रहा यमुना का पानी, हो रहा सप्लाई'सलमान रुश्दी पर हमला करने वाले की ईरान ने की तारीफ, कहा - 'हमला करने वाले को एक हजार बार सलाम'58% संक्रामक रोग जलवायु परिवर्तन से हुए बदतर: प्रोफेसर मोरा ने बताया, जलवायु परिवर्तन से है उनके घुटने के दर्द का संबंध14 अगस्त स्मृति दिवस: वो तारीख जब छलनी हुआ भारत मां का सीना, देश के हुए थे दो टुकड़ेआरएसएस नेता इंद्रेश कुमार का बड़ा बयान, बापू की छोटी सी भूल ने भारत के टुकड़े करा दिएHimachal Pradesh: जबरदस्ती धर्म परिवर्तन करवाने पर होगी 10 साल की जेल, लगेगा भारी जुर्मानाDGCA ने एयरपोर्ट पर पक्षियों के हमले को रोकने के लिए जारी किया दिशा-निर्देश
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.