महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध मौत की सीबीआई जांच की सिफारिश, अब होगा राज का पर्दाफाश

- काफी जद्दोजहद के बाद अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद अध्यक्ष अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध हालात में हुई मौत की जांच सीबीआई करेगी।

By: Sanjay Kumar Srivastava

Updated: 23 Sep 2021, 08:02 AM IST

लखनऊ. Mahant Narendra Giri death CBI inquiry काफी जद्दोजहद के बाद अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद अध्यक्ष अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध हालात में हुई मौत की जांच सीबीआई करेगी। सीएम योगी आदित्यनाथ (Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath) की मंजूरी के बाद गृह विभाग ने इस प्रकरण की सीबीआइ जांच कराने की सिफारिश केंद्र सरकार को भेज दी है। वैसे एसआइटी की 18 सदस्यीय टीम इस प्रकरण की जांच कर रही है।

आस्ट्रेलिया में महिला से छेड़छाड़, महंगी शराब और लक्जरी गाड़ियों पर धन खर्चने के आनंद गिरि पर लगे थे आरोप

महंत नरेंद्र गिरि आत्महत्या-हत्या :- मामला कुछ इस प्रकार था। बांघबरी मठ (Baghambari Math ) स्थित एक कमरे में अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद (Akhil Bharatiya Akhara Parishad) अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि सोमवार को संदिग्ध हालत में फांसी पर लटके मिले थे। मौके से एक सुसाइड नोट भी मिला था, जिसमें अपमान से आहत होकर कदम उठाने समेत अन्य बातें लिखी है।। नामजद एफआईआर दर्ज होने के बाद पुलिस ने आरोपी शिष्य आनंद गिरी से पूछताछ की। बुधवार दोपहर 12 बजे आनंद गिरी, आद्या तिवारी और संदीप तिवारी को सीजेएम कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट ने तीनों को 14 दिन की न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया है। एसआइटी इंचार्ज अजीत सिंह ने शाम छह बजे तीसरे आरोपित संदीप की गिरफ्तारी की पुष्टि की।

सीबीआइ जांच होगी :- अवनीश कुमार अवस्थी

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि, महंत नरेंद्र गिरि संदिग्ध मौत की सीबीआइ जांच होगी। गृह विभाग ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से यह जानकारी दी है। है। इस घटना पर उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य सहित तमाम संत-महंत आत्महत्या पर संदेह जता चुके हैं। राजनीतिक दलों ने भी प्रकरण की सीबीआइ या न्यायिक जांच कराने की मांग की थी। मंगलवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट अधिवक्ता व सामाजिक कार्यकर्ता सुनील कुमार उर्फ सुनील चौधरी ने महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध मौत की सीबीआई जांच की मांग में पत्र याचिका दायर की थी। मामले की गंभीरता को देखते हुए प्रदेश सरकार ने केंद्र सरकार से सीबीआइ जांच की सिफारिश कर दी है।

महंत नरेंद्र गिरि का पोस्टमार्टम हुआ :- महंत नरेंद्र गिरि का पोस्टमार्टम पांच डाक्टरों के पैनल ने किया। पैनल ने बताया कि, महंत नरेंद्र गिरि की मौत फंदे में लटकने से हुई है। पर बिसरा सुरक्षित रख लिया गया है। अभी फोरेंसिक जांच का विकल्प खुला हुआ है। पैनल को महंत नरेंद्र गिरि के गले में रस्सी से कसे जाने के निशान मिले हैं। विधिक मामला होने के कारण पोस्टमार्टम रिपोर्ट सार्वजनिक नहीं की गई है। इसे सीएमओ को दे दिया गया है।

Sanjay Kumar Srivastava
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned