scriptRaghuraj Pratap Singh Raja Bhaiya Pond and Benti Banglow Story | अब भी क्यों लोगों के जुबां पर राजा भैया के तालाब की कहानी, जानिए क्या है खौफनाक दास्तां | Patrika News

अब भी क्यों लोगों के जुबां पर राजा भैया के तालाब की कहानी, जानिए क्या है खौफनाक दास्तां

Raja Bhaiya Pratapgarh: बाहुबली का तमगा हासिल कर चुके राघुराज प्रताप उर्फ राजा भैया अक्सर चर्चा में रहते हैं। कई किवदंतियां अक्सर देखने या सुनने को मिल जाती हैं। लेकिन सवाल तो है ही कि क्या बेंती में उनकी महलनुमा कोठी से लेकर कई एकड़ में फैले तालाब में वाकई तमाम तरह के राज दफ्न हैं?

लखनऊ

Updated: April 11, 2022 05:45:11 pm

उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़, कुंडा के विधायक रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया को यूपी में भला कौन नहीं जानता। 30 साल से निर्दलीय विधायक राजा भैया ने 25 साल की उम्र में पहला विधानसभा चुनाव जीत लिया था। उन पर बहुत से आरोप भी लगे, वो जेल भी गए लेकिन उनके रुतबे और रुआब में कभी कोई कमी नहीं आई। लोग ऐसा कहते हैं कि प्रतापगढ़ के कुंडा इलाके में उनकी हुकूमत चलती है और 'जनता' उन्हें 'राजा' मानती है। लोगों के जुबां से अभी भी राजा भैया के तालाब की कहानियां सुनने को मिलती हैं। आखिर ऐसा क्या है, जो लोग उनके तालाब की चर्चा करते हैं। जहां एक तरफ लोगों में इतना खौफ है वहीं, अब उनके तिलिस्म पर सवाल भी उठ रहे।
Raghuraj Pratap Singh Raja Bhaiya Pond and Benti Banglow Story
Raghuraj Pratap Singh Raja Bhaiya Pond and Benti Banglow Story
अक्सर सुनने में मिलता है कि राजा भैया के कोठी के पीछे 600 बीघे का तलाब है, जिसमें वह लोगों के मरवाकर उसी में फिकवा देते हैं। कभी कभी नर कंकाल भी देखने को मिलती हैं। ऐसा किवदंतियों पर राजा भइया कहते हैं कि 600 बीघे के तालाब को खोद देना असंभव है। तालाब के पास हैं गंगा जी। गरीब लोग अंतिम संस्कार का खर्च नहीं उठा पाते। ऐसे में वो गंगा जी में पार्थिव शरीर को प्रवाहित कर देते हैं। गंगा जी का रास्ता बदलता रहता है। ऐसे में गंगा जी के पास बालू में कोई ना कोई हड्डी या नरकंकाल मिल ही जाएगा। अभी भी मिल जाएगा। ये कोई ऐसी दुर्लभ चीज नहीं है। फंसाने मात्र के लिए हड्डियां ले आए। इस तरह का तमाशा था।
यह भी पढ़ें

शस्त्रों के हैं शौकीन तो माउजर, पिस्टल और रिवॉल्वर में जान लीजिए क्या है फर्क

इंदिरा गांधी ने कुंडा में क्यों भेजा था सैन्य दल

पिता राजा उदय प्रताप सिंह ने विश्व हिंदू परिषद का दामन थाम लिया। जिसकी वजह से गांधी परिवार और उदय प्रताप सिंह के बीच मतभेद और मनभेद दोनों खुलकर सामने आए। राजा भैया के कुंडा की सीमा गांधी परिवार की सियासी कर्मभूमि रायबरेली से जुड़ती है, इसलिए पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी कुंडा पर बहुत ध्यान देती थीं। गांधी परिवार से राजा उदय के रिश्ते खराब होते गए। फिर एक दिन राजा उदय प्रताप ने भदरी रियासत को स्वतंत्र राज्य घोषित कर दिया। उदय प्रताप के वर्चस्व की वजह से प्रशासन उन्हें नियंत्रित नहीं कर सका। जिसके बाद तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने कुंडा में सैन्य दल भेज दिया था। तभी से भदरी रियासत और राजा भैया का परिवार हमेशा के लिए कांग्रेस से दूर हो गया।
यह भी पढ़ें

क्या आप भी जानते हैं चीटियां भी होती हैं बीमार, जानिए कैसे करती हैं अपना इलाज

क्या कुंडा में कम हो रहा राजा भैया का तिलिस्म

राजा भैया ने पहली बार 1993 में कुंडा से चुनाव लड़ा था और वह सबसे कम उम्र के विधायक बने। तभी से वो लगातार चुनाव जीतते आ रहे हैं। इस दौरान उन्हें कई चुनौतियों का भी सामना करना पड़ा, जब मायावती से राजनीतिक अदावत के चलते उन्हें लंबे समय तक जेल में रहना पड़ा। विधानसभा चुना में सपा प्रत्याशी के साथ हुई उठा-पटक पर जो हुआ और जीत के मार्जिन के बाद लोगों से सुनने को मिला कि अब राजा भैया का दबदबा कम होता जा रहा है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्सयहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतिशुक्र का मेष राशि में गोचर 5 राशि वालों के लिए अपार 'धन लाभ' के बना रहा योगराजस्थान के 16 जिलों में बारिश-आंधी व ओलावृ​ष्टि का अलर्ट, 25 से नौतपाजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथइन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठा7 फुट लंबे भारतीय WWE स्टार Saurav Gurjar की ललकार, कहा- रिंग में मेरी दहाड़ काफीशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफ

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी केसः बहस पूरी, 1991 का वर्शिप एक्ट लागू होगा या नहीं, कल होगा फैसला, जानें सुनवाई से जुड़ी हर बातबीजेपी नेता किरीट सोमैया की पत्नी ने शिवसेना के संजय राउत के खिलाफ दर्ज कराया 100 करोड़ का मानहानि का मुकदमालैंड होते ही झटके से रूक गया यात्री विमान, सांस थामे बैठे रहे यात्रीजम्मू और कश्मीर: आतंकियों के निशाने पर सुरक्षा बल, श्रीनगर में जारी किया गया रेड अलर्टजापान में पीएम मोदी का जोरदार स्वागत, टोक्यो में जापानी उद्योगपतियों से की मुलाकातऑक्सफैम ने कहा- कोविड महामारी ने हर 30 घंटे में बनाया एक नया अरबपति, गरीबी को लेकर जताया चौंकाने वाला अनुमानसंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजरबिहार में पटरियों पर धरना-प्रदर्शन के चलते 23 ट्रेनें रद्द, 40 डायवर्ट की गईं
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.