शिवपाल के इस बयान से गरमाएगी यूपी की सियासत, भविष्य के दिए संकेत

शिवपाल ने यह भी साफ कर दिया है कि समाजवादी पार्टी में उनकी पार्टी का विलय नहीं होगा।

मैनपुरी। समाजवादी पार्टी से अलग होकर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी बना चुके शिवपाल यादव ने एक बार फिर गठबंधन के संकेत दिए हैं। शिवपाल ने यह भी साफ कर दिया है कि समाजवादी पार्टी में उनकी पार्टी का विलय नहीं होगा।

यह भी पढ़ें- प्रियंका गांधी-अखिलेश यादव में मुस्लिम वोटों के लिए मची होड़: केशव प्रसाद मौर्य

दरअसल शिवपाल यादव मैनपुरी में शनिवार को प्रसपा की मासिक बैठक में शामिल होने आए थे। इस दौरान शिवपाल यादव ने भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधा। शिवपाल ने कहा कि वह सत्ता में भाजपा को आने से रोकने के लिए किसीके साथ भी हाथ मिलाने को तैयार हैं। शिवपाल ने आगामी चुनावों में गठबंधन के संकेत दिए हैं, हालांकि उन्होंने सपा में प्रसपा के विलय की संभावनाओं को सिरे से खारिज कर दिया।

यह भी पढ़ें- उपद्रव प्रभावित परिवारों को अखिलेश ने दिए तीन-तीन लाख, CAA को बताया गरीब विरोधी

शिवपाल सिंह यादव ने नागरिकता संशोधन कानून caa पर भाजपा को घेरा। शिवपाल ने कहा कि तमाम जातियों को नागरिकता संशोधन कानून में शामिल किया गया है। यदि मुसलमानों को भी शामिल कर लिया जाता तो इतने दंगे क्यों होते। भाजपा ने देश के जरिए देश को बांटने का काम किया है।

BJP CAA
Show More
अमित शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned