वृन्दावन में स्थापित होगा चार धाम, 165 फीट ऊंची लगेगी शिव की प्रतिमा

जेके ट्रस्ट के चेयरमैन जेसी चौधरी ने पत्रकारवार्ता में बताया कि तीर्थनगरी में धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से ट्रस्ट द्वारा 2010 में विशालतम क्षेत्र में श्री वैष्णों देवी धाम की स्थापना की गयी थी।

By: Nitish Pandey

Published: 10 Sep 2021, 03:13 PM IST

मथुरा. कान्हा की नगरी मथुरा में राष्ट्रीय राजमार्ग से सटे छटीकरा कस्बे में भारत की सबसे ऊंची शिवमूर्ति का निर्माण होने जा रहा है। जेके ट्रस्ट द्वारा संचालित श्री वैष्णों देवी मंदिर परिसर में चार धाम स्थापित किये जा रहे हैं। जिसमें देवाधिदेव महादेव के साथ श्री राधाकृष्ण व न्याय देव शनि महाराज के मन्दिर स्थापित होंगे।

यह भी पढ़ें : बहन के घर आई महिला की गोली मारकर हत्या, पुलिस ने शुरू की जांच

7 एकड़ में प्रस्तावित है चार धाम

इस सम्बंध में जेके ट्रस्ट के चेयरमैन जेसी चौधरी ने पत्रकारवार्ता में बताया कि तीर्थनगरी में धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से ट्रस्ट द्वारा 2010 में विशालतम क्षेत्र में श्री वैष्णों देवी धाम की स्थापना की गयी थी। जिसमें जमीन तल से 141 फीट ऊंची वैष्णों माता की विशालकाय प्रतिमा स्थापित की गयी थी। जो लिम्का बुक ऑफ इंडिया में दर्ज की गयी थी। अब भक्तों की अपार मांग व ईश्वरीय कृपा से 7 एकड़ में चार धाम की स्थापना प्रस्तावित है। जिसमें पर्वत पर विराजमान देवाधिदेव महादेव की 165 फीट ऊंची प्रतिमा का निर्माण किया जायेगा।

24 महीने में बनकर तैयार होगा चारधाम

इसके अलावा अर्द्यनारीश्वर, नटराज की प्रतिमा भी विराजित होंगी। हरितिमा युक्त वातावरण में भगवान राधाकृष्ण, कालिया नाग मर्दन, व शनिदेव की प्रतिमायें भी स्थापित होंगी। इस चार धाम का निर्माण कार्य 24 महीने में पूर्ण करने की योजना है। उन्होंने बताया कि चार धाम में वैदिक परम्परानुसार यज्ञशाला, प्रसादघर भी बनेंगे।

श्रद्धालुओं के लिए होगा सुविधाजनक

गौरतलब है कि मथुरा कान्हा के शहर होने के नाते पूरी दुनिया में मशहूर है। यहां देश-विदेश के श्रद्धालुओं का साल भर तांता लगा रहता है। ऐसे में चार धाम बन जाने से मथुरा शहर में चार चांद लग जाएगा। पर्यटकों और श्रद्धालुओं के लिए काफी सुविधाजनक होगा।

BY: Nirmal Rajpoot

यह भी पढ़ें : प्रेमी से मिलने आई प्रेमिका का तालाब में मिला शव, मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने शुरू की जांच

Nitish Pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned