मेरठ में तीन नेपाली युवकों समेत 6 में दिखे Coronavirus के लक्षण तो शुरू हुई निगरानी, रिपोर्ट का इंतजार

Highlights

  • मेडिकल कालेज के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती
  • अब विदेश से आने वाले भर्ती होंगे अस्पताल में
  • सभी संदिग्ध मरीजों की रिपोर्ट आने का इंतजार

By: sanjay sharma

Published: 19 Mar 2020, 06:53 AM IST

मेरठ। तीन नेपाली युवकों समेत छह लोगों में कोरोना वायरस के लक्षण लगने पर मेडिकल कालेज अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में निगरानी में रखा गया है। इनके सैंपल जांच के लिए दिल्ली लैब में भेजे गए हैं। सीएमओ डा. राजकुमार ने बताया कि अभी तक अगर विदेश से आए किसी भी व्यक्ति का सैंपल भेजा जाता था तो उसे घर पर ही आइसोलेशन में रहने के लिए कहा जाता था। अब इसमें बदलाव किया गया है। विदेश से आए व्यक्तियों में अगर कोरोना जैसे लक्षण दिखते हैं तो उन्हें मेडिकल कालेज अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया जाएगा।

यह भी पढ़ेंः मेरठ में नकाबपोश बदमाशों ने प्रॉपर्टी डीलर की गोलियां बरसाकर की हत्या, मच गया कोहराम

सीएमओ के अनुसार नेपाली युवक यहां नौकरी करते हैं और वे नेपाल घूमकर आए थे। विभाग इनकी निगरानी कर रहा था। इनमें कोरोना जैसे लक्षण दिखे तो इन्हें मेडिकल कालेज के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है। इनके अलावा बुलंदशहर का एक युवक पिछले दिनों जयपुर में विदेशी लोगों से मिला था, उसे खांसी जुकाम और बुखार की शिकायत थी। उसे भी आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया है। इनके अलावा अमेरिका से लौटी महिला समेत एक अन्य आइसोलेशन वार्ड में भर्ती हैं। इनके दिल्ली भेजे गए सैंपल की रिपोर्ट आने तक निगरानी रखी जाएगी।

यह भी पढ़ेंः Coronavirus: 10 रुपये की चाय से दूर भागेगा कोरोना, मेरठ का चायवाला कर रहा दावा

मेडिकल के सुपर स्पेशियलिटी ब्लॉक में 80 बेड के दो आइसोलेशन वार्ड हैं। इनमें एक वार्ड कोरोना के संदिग्ध मरीजों के लिए है तो दूसरा कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट के मरीजों के लिए बनाया गया है। इसके अलावा 20 बेड का आइसोलेशन वार्ड प्राइवेट वार्ड में बनाया गया है, ये मेडिकल स्टाफ के कोरोना संदिग्ध मरीजों के लिए है।

sanjay sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned