Breaking मेरठ में महिला अधिवक्ता को सैनिटाइजर से जलाने की घटना सामने आई, एसपी ने दिए जांच के आदेश

  • महिला एडवाेकेट 70 प्रतिशत तक जली
  • पति बाेला चाय बनाते हुए जली महिला
  • अधिवक्ताओं की शिकायत पर जांच शुरू

By: shivmani tyagi

Updated: 27 Nov 2020, 09:48 PM IST

मेरठ ( meerut news ) जिले में एक महिला अधिवक्ता को सैनिटाइजर से जलाने का मामला सामने आया है। महिला अधिवक्ता के जलने की सूचना जब उनके साथ प्रैक्टिस करने वाले अन्य साथी अधिवक्ताओं को मिली तो उन्होंने मीडिया और पुलिस अधिकारियों को इसकी जानकारी दी। अधिवक्ताओं की शिकायत पर एसपी देहात पूरी घटना की जांच के आदेश पुलिस काे दिए हैं।

यह भी पढ़ें: किसानों ने किया आर-पार की लड़ाई का ऐलान तो खोलने पड़े सरकार को दिल्ली के रास्ते

महिला अधिवक्ता करीब 70 फीसदी तक जल चुकी हैं। घटना थाना खरखौदा के कांशीराम अवासीय कालोनी की है। यहां एक महिला अधिवक्ता अपने पति और ससुरालियों के साथ रहती हैं। महिला अधिवक्ता जिला बार एसोसिएशन की सदस्य भी हैं। बताया जाता है कि कचहरी में महिला की गिनती तेज-तर्रार अधिवक्ताओं में होती है। पारिवारिक सूत्रों के मुताबिक महिला अधिवक्ता घर में चाय बना रही थी इसी दाैरान उनके कुर्ते में आग लग गई जिससे वह काफी जल गई। दूसरी ओर आराेप लगाए जा रहे हैं कि महिला अधिवक्ता को उनके ससुरालियों ने सैनिटाइजर डालकर जलाया है। महिला अधिवक्ता ज़िंदगी और मौत से लड़ रही हैं। हापुड रोड स्थित एक प्राईवेट नर्सिंग हाेम में एडवाेकेट का उपचार चल रहा है। परिवार वालाें ने इस घटना काे छुपाए रखा लेकिन शाम को जब इसकी सूचना महिला अधिवक्ता के साथ प्रैक्टिस करने वाले अन्य साथी अधिवक्ताओं को लगी तो उन्होंने इसकी पूरी जानकारी की।

यह भी पढ़ें: बिजनौर में युवक की पत्थर से पीट-पीटकर हत्या, पहचान छिपाने के लिए चेहरा भी जलाया

मामला संज्ञान में आने के बाद एसपी देहात अविनाश पांडे को इसके बारे में बताया गया। इस घटना के बारे में अधिवक्ता रामकुमार शर्मा ने बताया कि इससे अधिवक्ता समाज में रोष व्याप्त है। अधिवक्ता आराेपियाें के खिलाफ मुक़दमा पंजीकृत कर उनकी गिरफ़्तारी की मांग कर रहे हैं। अधिवक्ताओं ने कहा कि अगर यह दुर्घटना है तो इसकी जानकारी परिवार वालों काे क्याें नहीं दी।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned