तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार के पिता का निधन, लंबे समय से थे बीमार

एक साल से कैंसर cancer का चल रहा था इलाज, लीवर कैंसर liver cancer से ग्रसित थे भुवी के पिता, पैतृक गांव में होगा अंतिम संस्कार, परिवार में फैला दुख

By: shivmani tyagi

Updated: 21 May 2021, 10:30 AM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
मेरठ ( meerut news ) देश के तेज गेंदबाज (best boller) और स्विंग के मास्टर हरफनमौला क्रिकेटर भुवनेश्वर कुमार ( Cricketer Bhuvneshwar Kumar ) के पिता का गुरुवार को निधन हो गया। वे एक साल से कैंसर ( cancer) रोग से पीड़ित थे। कुछ दिन पहले ही वे अस्पताल से घर लाए गए थे। जहां पर उनका चिकित्सकों की देखरेख में इलाज चल रहा था। भुवी के पिता किरणपाल का अंतिम संस्कार बुलंदशहर के उनके पैंतृक गांव लुहारली में किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: यूपी के मंत्री का कोरोना से निधन, बीते एक साल में काल के गाल में समा गए 13 विधायक

( bhuvneshwar kumar news ) भुवनेश्वर अपने परिजनों के साथ पिता के पार्थिव शरीर को लेकर गांव निकल गए हैं। गांव में ही उनके पिता का अंतिम संस्कार किया जाएगा। भुवनेश्वर कुमार ( Bhuvneshwar Kumar ) के साथ उनकी बहन रेखा और पत्नी इंद्रेश भी गए हैं। उनके पिता का निधन गुरुवार को दोपहर बाद करीब 4:30 बजे हुआ। उनकी उम्र 63 वर्ष थी। बुधवार को उन्‍होंने खाना-पीना छोड़ दिया था। तीन दिन पूर्व वे निजी अस्पताल से डिस्चार्ज होकर घर आए थे। विश्व प्रसिद्ध तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार के पिता को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया था। भुवी के पिता किरणपाल का इलाज गंगानगर स्थित एक प्राइवेट अस्पताल में चल रहा था। भुवी के परिवारिक सूत्रों के अनुसार पिता किरणपाल का इलाज दिल्ली के एम्स से भी। वहीं पर उनकी कीमोथेरेपी भी हुई थी जिसके बाद उनको काफी कमजोरी की शिकायत हुई थी।

यह भी पढ़ें: भारत की एकमात्र मेडिको न्यूट्रीशियनिस्ट डॉ. उमा शंखधर का निधन

इसी बीच पिछले साल आइपीएल सीजन-13 के बीच में ही भुवी को चोट लग गई थी जिसके बाद वो वापस लौट आए थे। आईपीएल सीजन-13 से वापसी के बाद ही उनको अपने पिता की इस बीमारी के बारे में पता चला। परिजनों से उन्होंने पिता का इलाज विदेश में कराने की बात कही थी लेकिन परिजनों ने देश में ही इलाज कराने की बात की। जिसके बाद दिल्ली एम्स में उनका इलाज शुरू हुआ था। पिछले साल एम्स में इलाज के बाद कमजोरी के बाद इस साल तबियत और अधिक बिगड़ गई जिसके चलते गंगानगर के एक प्राइवेट अस्पताल में उन्हे भर्ती कराया गया था। अब बुलंदशहर के में उनका अंतिम संस्कार हाेगा। भुवनेश्वर अपने पिता के शरीर को लेकर बुलंदशहर में पहुंच गए हैं। इस खबर के बाद से क्रिकेट प्रेमियों में दुख फैल गया है।

यह भी पढ़ें: UP में 5वें भाजपा विधायक की कोरोना से मौत पर पीएम मोदी ने जताया दुख, संघ कार्यकर्ता से मंत्री पद तक पहुंचे थे कश्यप
यह भी पढ़ें: मशहूर विधायक शिवबालक पासी का निधन, पहले से क्यों बनवाई दो समाधियां

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned