scriptPrisoners made clay lamps and candles in jail | Diwali 2021: दीपावली पर जेल में बंद बंदियों के हाथ से बनी कैंडल्स, दीपक से करें घर को रोशन | Patrika News

Diwali 2021: दीपावली पर जेल में बंद बंदियों के हाथ से बनी कैंडल्स, दीपक से करें घर को रोशन

Diwali 2021: कभी अपराध करने वाले हाथ आज सलाखों के पीछे रहकर मिट्टी के दिए और लक्ष्मी-गणेश के अलावा अरोमा कैंडल्स, जेल कैडल्स समेत एलईडी कैंडल्स बना रहे हैं। पश्चिमी यूपी की बुलंदशहर, नोएडा, गाजियाबाद, बागपत, शामली, अलीगढ़, मथुरा जेल में कैदियों के हाथ से बनी कैंडल्स और दीपक लोगों के घर में दीपावली को रोशनी करेंगे।

मेरठ

Updated: November 02, 2021 02:06:40 pm

Diwali 2021: कभी अपराध करने वाले हाथ आज सलाखें के पीछे रहकर अपने उन्हीं हाथों से हुनर दिखा रहे हैं। पश्चिमी उत्तर प्रदेश की जिला कारागारों में निरुद्ध कैदी आत्मनिर्भर बन रहे हैं और यहां के बंदियों को जेल प्रशासन किसी ना किसी कार्य के लिए प्रेरित करता रहता है।
prisoners.jpg
यह भी पढ़ें

Corona: सतर्क हुआ प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग, फिर खोला गया इंटीग्रेटेड कोविड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर

दीपावली का त्यौहार आ चुका है, इस बार लोगों के घर को दीपावली पर बंदियों के हाथ से बनी कैंडल्स, दीपक रोशन करेंगे। कारागार में बंद बंदियों के मिट्टी के दिए मोमबत्ती और लक्ष्मी गणेश बना रहे हैं। बंदियों द्वारा बनाए जा रहे लक्ष्मी गणेश और मिट्टी के दीपकों की हर कोई प्रशंसा कर रहा है और यह दीपक कान्हा की नगरी के ज्यादातर घरों को रोशन करेंगे।
पश्चिमी उत्तर प्रदेश के जिलों में दीपावली का पर्व एक अलौकिक अंदाज में मनाया जाता है और हर तरफ मिट्टी के दीपक दीपावली के दिन जलाए जाते हैं। हर बार की तरह इस बार भी कई जिलों के जिला कारागार में बंद बंदी मिट्टी के दीयों की साथ-साथ मोमबत्ती और लक्ष्मी गणेश की मूर्ति बना रहे हैं।
जेल प्रशासन भी इन बंदियों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए हर सुविधा मुहैया करा रहा है। जिससे कि जब बंदी जेल से रिहा होकर जाएं तो बाहर जुर्म के दलदल में फंसने के बजाय वह जेल के भीतर सीखे हुनर से अपना ऐसा कारोबार कर सके। जिससे उसे भविष्य में किसी भी तरह की कोई दिक्कत ना हो।
बुलंदशहर जेल में रमेश पिछले 7 साल से बंद हैं। उनके द्वारा मिट्टी के दीये, मोमबत्ती और भगवान गणेश माता लक्ष्मी की प्रतिमा बनाई जा रहीं हैं। जिला कारागार के जेल अधीक्षक व जेलर के साथ डिप्टी जेलर ने इन बंदियों के हौसला बढ़ाने के लिए हर सुविधा जेल के अंदर ही उपलब्ध करा रहे हैं।
मेरठ जिला कारागार के डिप्टी जेलर राजेन्द्र सिंह ने बताया कि कैदियों के हुनर के चलते ही ये सब संभव होता है। हमारा हर संभव प्रयास होता है कि बंदियों के भीतर का हुनर निखरे और वो एक नई जिंदगी की शुरुआत कर सकें।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

UP Election 2022 : भाजपा उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी, गोरखपुर से योगी व सिराथू से मौर्या लड़ेंगे चुनावPunjab Assembly Election: कांग्रेस ने जारी की 86 उम्मीदवारों की पहली सूची, जानें कौन कहां से चुनाव लड़ेगाCorona Cases In India: देश में 24 घंटे में कोरोना के 2.68 लाख से ज्यादा केस आए सामने, जानिए क्या है मौत का आंकड़ाअब हर साल 16 जनवरी को मनाया जाएगा National Start-up Dayसीमित दायरे से निकल बड़ा अंतरिक्ष उद्यम बनने की होगी कोशिश: सोमनाथछत्तीसगढ़ के 20 हजार किसानों के करोड़ों रुपए लौटाए केंद्र सरकार ने, हुआ था कुछ ऐसा लगेथे ये गंभीर आरोप....मोदी सरकार का फैसला अब सुभाष चंद्र बोस की जयंती से शुरू होगा गणतंत्र दिवस का जश्नMarital Rape: क्यों पति की जबरदस्ती को रेप के कानून में लाना आवश्यक है? दिल्ली हाई कोर्ट में छिड़ी बहस
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.