रेलवे का ऐलान- अगले 10 दिनों में चलेंगी 2600 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें, 36 लाख प्रवासियों को पहुंचाएंगी घर

  • रेलवे बोर्ड के चेयरमैन विनोद कुमार यादव ( Railway Board Chairman Vinod Kumar Yadav ) ने दी जानकारी
  • अब तक देश के अलग-अलग राज्यों में करीब 2600 से ज्यादा श्रमिक ट्रेनें ( Shramik Special trains ) चलाईं गईं हैं, जिनमें 26 लाख से अधिक यात्रियों को उनके घरों तक पहुंचाया गया

नई दिल्ली। कोरोना वायरस ( Coronavirus ) के चलते लागू लॉकडाउन ( Lockdown ) के बीच रेलवे ने फंसे हुए प्रवासी मजदूरों ( Migrant workers ) को घर तक पहुंचाने में महती भूमिका निभाई है।

इस बीच रेलवे बोर्ड के चेयरमैन विनोद कुमार यादव ( Railway Board Chairman Vinod Kumar Yadav ) ने जानकारी दी कि अब तक देश के अलग-अलग राज्यों में करीब 2600 से ज्यादा श्रमिक ट्रेनें ( Shramik Special trains) चलाईं गईं हैं, जिनमें 26 लाख से अधिक यात्रियों को उनके घरों तक पहुंचाया गया है।

शनिवार को आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में विनोद कुमार ने कहा कि श्रमिक रेलवे से जुड़ी अन्य अहम जानकारियां भी दीं...

विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी का बड़ा बयान- Arogya Setu App में ग्रीन स्टेटस दिखा तो क्वारंटीन करने की जरूरत नहीं

 

खुशखबरी! H-1B बिल यूएस कांग्रेस में पेश, अमरीका में रह रहे दो लाख भारतीय छात्रों को फायदा

रेलवे से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारियां——

  • पिछले 4 दिनों में रोजाना औसतन 260 'श्रमिक विशेष ट्रेनें' चलाई गई, जिनमें हर दिन तीन लाख यात्रियों को घरों तक पहुंचाया गया।
  • 1 मई से हुई श्रमिक स्पेशल ट्रेनें शुरुआत से ही यात्रियों को मुफ्त भोजन और पीने का स्वच्छ पानी उपलब्ध कराया जा रहा है। इस दौरान ट्रेनों और स्टेशनों पर साफ-सफाई के सभी मापदंडों का पालन किया जा रहा है।
  • रेलवे के 17 हॉस्पिटल्स को कोरोना हॉस्पिटल में बदल दिया गया है।
  • अगले 10 दिनों में 2,600 ट्रेनों का संचालन किया जाएगा। इनमें स्पेशल श्रमिक ट्रेनों से 36 लाख प्रवासी लोग यात्रा करेंगे।
  • रेलवे की साधारण सेवा बहाली की स्थिति में रेलवे मंत्रालय 1 जून से 200 मेल एक्सप्रेस ट्रेन चलाएगा।
  • 5000 कोच को कोरोना केयर सेंटर्स में तब्दील किया गया। इनमें 80 हजार बिस्तरों की व्यवस्था की गई। इनमें से भी 50 प्रतिशत का इस्तेमाल प्रवासी मजदूरों के लिए किया गया।
  • 1 जून से लगभग 200 ट्रेनों का संचालन शुरू होने जा रहा है। इनकी बुकिंग 21 मई से शुरू कर दी गई।
  • इसके साथ ही रेलवे ने टिकट को IRCTC की वेबसाइट समेत टिकट काउंटरों बुक करने की सुविधा दे दी।
  • इन ट्रेनों की टिकट की बुकिंग अब कम्प्यूटराइज्ड PRS Centers, डाकघरों, यात्री टिकट सुविधा केन्द्रों के साथ-साथ IRCTC के मान्यता प्राप्त एजेंटों और सामान्य सेवा केन्द्रों से भी कराई जा सकती है।
Show More
Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned