महाराष्ट्र के बाद दिल्ली में भी तेजी से बढऩे लगे कोरोना के केस, जालंधर और औरंगाबाद में लगा नाइट कर्फ्यू

Highlights.
- कई राज्यों में कोरोना का संक्रमण एक बार फिर तेजी से फैल रहा है
- महाराष्ट्र के बाद दिल्ली में भी कोरोना का खतरा तेजी से बढ़ रहा है
- महाराष्ट्र में बीते 24 घंटे में कोरोना से मरने वालों की संख्या 47 रही है

 

नई दिल्ली।

भारत में कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए टीकाकरण अभियान जारी है। बावजूद इसके कई राज्यों में कोरोना का संक्रमण एक बार फिर तेजी से फैल रहा है। महाराष्ट्र के बाद देश की राजधानी दिल्ली में भी कोरोना का खतरा तेजी से बढ़ रहा है। वहीं, संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए पंजाब के जालंधर और महाराष्ट्र के औरंगाबाद जिले में नाइट कफ्र्यू लगा दिया गया है। महाराष्ट्र और पंजाब में हालात खराब होने के बाद वहां केंद्र से स्वास्थ्य विभाग की टीम भेजी गई है।

52 हजार 440 लोगों की इस महामारी से मौत

इससे पहले, महाराष्ट्र में गत शनिवार को कोरोना संक्रमण के दस हजार 187 नए केस सामने आए। हालांकि, रिकवरी रेट ठीक होने से एक दिन पहले ही करीब छह हजार लोगों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी। वहीं,
बीते 24 घंटे में कोरोना से मरने वालों की संख्या 47 रही है। गौरतलब है कि राज्य में अब तक कोरोना संक्रमण के 22 लाख 8 हजार 586 केस सामने आए हैं। इसमें 20 लाख 62 हजार 31 लोग ठीक हुए हैं, जबकि 52 हजार
440 लोगों की इस महामारी से मौत हुई है। फिलहाल राज्य में एक्टिव केस की संख्या बढक़र 92 हजार 897 हो गई है।

औरंगाबाद में कोरोना संक्रमण के 459 नए केस ने बढ़ा दी चिंता, डीएम लॉकडाउन पर आज ले सकते हैं फैसला

शनिवार को कोरोना के 321 नए मामले सामने आए

हालांकि, दिल्ली में महाराष्ट्र की तरह हालात अभी खराब नहीं हुए हैं, लेकिन आंकड़े रोज बढ़ते जा रहे हैं, जिससे प्रशासन सख्ती को लेकर एक बार फिर गंभीर हो गया है। गत शनिवार को कोरोना के 321 नए मामले सामने आए। यह मार्च में लगातार दूसरे दिन यानी एक दिन पहले शुक्रवार के 300 के आंकड़े को पार कर गया। दिल्ली में कोरोना के मामलों में अचानक हुई इस वृद्धि से संक्रमण की दर 0.60 हो गई है।

शुक्रवार को तीन मरीजों की मौत

स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक, शुक्रवार को तीन मरीजों की मौत हो गई थी, जबकि 312 केस सामने आए थे, जबकि एक दिन पहले गुरुवार को 261 केस ही सामने आए थे। वहीं, शनिवार को आंकड़ा 321 का था। इस हिसाब से देखें तो दो दिनों यह आंकड़ा करीब 35 प्रतिशत तक बढ़ गया। शनिवार को एक व्यक्ति की संक्रमण से मौत हो गई। इस तरह दस हजार 919 लोग इस संक्रमण से दिल्ली में अपनी जान गंवा चुके हैं। स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार 1779 मरीजों का इलाज चल रहा है।

दिल्ली में डराने लगे कोरोना संक्रमण के नए मामले, फिर बढऩे लगी संक्रमित मरीजों की संख्या

बीते पांच दिनों में 559 नए केस

दूसरी ओर, पंजाब के जालंधर में स्थिति खराब होने के बाद वहां नाइट कफ्र्यू लगाना पड़ा। जालंधर में बीते पांच दिनों में 559 नए केस सामने आए, जबकि इस बीच 14 संक्रमित मरीजों की मौत हो गई। यही स्थिति महाराष्ट्र के औरंगाबाद जिले की है। यहां भी हालात बिगडऩे के बाद रविवार शाम को बैठक हुई, जिसमें फिलहाल नाइट कफ्र्यू लगाया गया। जिलाधिकारी सुशील चव्हाण के अनुसार, अगर हालात फिर भी नहीं सुधरे तो लॉकडाउन लगाने पर विचार किया जाएगा।

COVID-19 COVID-19 virus
Ashutosh Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned