Haryana, Meghalaya के बाद अब Ladakh में भूकंप के झटके, 4.5 तीव्रता दर्ज

  • हरियाणा ( Haryana ) के रोहतक ( Rohtak ) में दो दिनों के भीतर भूकंप ( earthquake ) का दूसरा झटका
  • रोहतक ( Rohtak ) में रिक्टर स्केल पर भूकंप ( earthquake ) की तीव्रता 2.8 दर्ज की गई

नई दिल्ली। देश में कोरोना महामारी ( Coronavirus Crisis ) के बीच प्राकृतिक आपदाओं ( Natural disasters ) का खतरा मुंह बाए खड़ा है। यही वजह है कि पिछले कुछ दिनों से देश के विभिन्न हिस्सों में लगातार भूकंप ( earthquake ) के झटके देखने को मिल रहे हैं। ताजा मामला हरियाणा ( Haryana ) के रोहतक ( Rohtak ) से जुड़ा है। यहां 48 घंटों में दूसरे बार भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। शुक्रवार दोपहर 3.32 बजे रोहतक व आसपास के इलाके में भूकंप के झटके महसूस किए गए। हालांकि भूकंप के तीव्रता काफी कम थी और रिक्टर स्केल पर 2.8 दर्ज की गई।

COVID-19: 24 घंटों में Corona के 16,000 मामले- महाराष्ट्र, गुजरात और तेलंगाना का दौरा करेगी टीम

हरियाणा और मेघालय के बाद अब लद्दाख में भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। जानकारी के अनुसार भूकंप रात 8.15 मिनट के आसपास आया। भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 4.5 मापी गई है। जबकि कुछ देर पहले ही मेघालय में 3.3 तीव्रता का भूकंप आया था।

भूकंप का केंद्र रोहतक में जमीन से 9 किलोमीटर नीचे बताया गया है। हरियाणा के सीमा से सटे होने के कारण दिल्ली-एनसीआर में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए। हालांकि भूकंप से किसी तरह तरह के नुकसान की खबर सामने नहीं आई है। आपको बता दें कि इससे पहले बुधवार को रोहतक में दोपहर 12.58 बजे भूकंप का झटका महसूस किया गया था। इस बार भूकंप का केंद्र रोहतक में जमीन से 5 किलोमीटर अंदर था।

Bihar Election: Congress ने काटा Tariq Anawar का टिकट, समीर सिंह को बनाया MLC का उम्मीदवार

j.png

'Emergency की बरसी' पर बोले PM Narendra Modi- 'Democracy के लिए लड़ने वालों को मेरा नमन'

वहीं, मिजोरम में मंगलवार रात एक और भूकंप आया था, जिसकी तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 3.7 मापी गई थी। पिछले 48 घंटों में इस पहाड़ी राज्य में यह तीसरा भूकंप था। आपदा प्रबंधन अधिकारियों के अनुसार, भूकंप के कारण किसी जान-माल के नुकसान की कोई खबर नहीं है। भूकंप मंगलवार रात 7.17 बजे आया था। मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अधिकारियों ने कहा कि भूकंप दक्षिण मिजोरम में म्यांमार से सटे जिले लुंगलेई में आया। भूकंप कुछ सेकेंड में समाप्त हो गया, और यह पृथ्वी की 25 किलोमीटर की गहराई में स्थित था।

Show More
Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned