एंटीलिया केसः एनआईए को बड़ी सफलता, गिरफ्त में आई सचिन वाजे के साथ होटल में दिखी संदिग्ध महिला

एंटीलिया मामले में एनआईए को मिली बड़ी कामयाबी, वाजे के साथ दिखी मिस्ट्री वुमन को हिरासत में लिया

नई दिल्ली। मुकेश अंबानी ( Mukesh Ambani ) के घर एंटीलिया मामले ( Antilia ) में एनआईए के बड़ी सफलता मिली है। दरअसल मुंबई पुलिस के निलंबित अधिकारी सचिन वाजे के साथ होटल में दिखी संदिग्ध महिला की तलाश पूरी हो गई है। एनआईए ने गुरुवार शाम को उस महिला को हिरासत में ले लिया, जो 16 फरवरी को साउथ मुंबई स्थित एक पांच सितारा होटल में सचिन वाजे के साथ दिखी थी।

एनआईए पिछले लंबे समय से इस महिला की तलाश में थी। माना जा रहा है कि महिला को हिरासत में लेने के बाद एनआईए इस मामले से जुड़े कुछ और राज से पर्दा हटाने में कामयाब रहेगी।

यह भी पढ़ेंः मुंबई: सचिन वाजे केस में कोर्ट ने दो और पुलिसकर्मियों को NIA की कस्टडी में भेजा

मुकेश अंबानी के घर के पास से बरामद एसयूवी और मनसुख हिरन की मौत के मामले में एनआईए ने कई इलाकों में तलाशी अभियान चलाया। इसके तहत दक्षिण मुम्बई के एक होटल और एक क्लब की तलाशी ली। साथ ही ठाणे के एक फ्लैट में भी तलाशी अभियान चलाया, जहां से मिस्ट्री वुमन को हिरासत में लिया गया।
बताया जाता है कि यह महिला मुख्य आरोपी सचिन वाजे की करीबी सहयोगी है।

काले धन को सफेद करने में वाजे की मदद
एनआईए ने हिरासत में लेने से पहले इस महिला से पूछताछ भी की। एनआईए के अधिकारियों ने कहा कि महिला, सचिन वाजे के काले धन को सफेद करने के लिए काम कर रही थी।

मिस्ट्री वुमन एक नहीं बल्कि दो आईडी का इस्तेमाल करती थी। इसके अलावा उसके पास से नोट गिनने की मशीन भी थी। ये वही मशीन है जो वाजे की मर्सिडीज कार से बरामद की गई थी।

ये है पूरा मामला
मिस्ट्री वुमन की तलाश उस दिन से शुरू हुई जब सचिन वाजे के साथ 16 फरवरी को दक्षिण मुंबई के पांच सितारा होटल में उसे जाते हुए देखा गया। इस दौरान उनके हाथों में पांच बड़े बैग भी थे। इन बैगों में नकदी मिलने की बात भी सामने आई थी।

एनआईए के सूत्रों ने यह कन्फर्म किया था कि घटना वाले दिन सचिन वाजे पैसों से भरे पांच बैग लेकर जा रहे थे।

ऐसे गिरफ्त में आई महिला
एएनआई अधिकारियों के मुताबिक एक दल दोपहर करीब पौने एक बजे बाबुलनाथ मंदिर के पास 'सोनी बिल्डिंग में बने एक होटल और क्लब में पहुंचा। अधिकारियों ने बताया कि होटल में मौजूद लोगों और कर्मचारियों को परिसर खाली करने को कहा गया।

यह भी पढ़ेंः Mansukh Hiren Case: NIA को मुंबई की एक नदी से मिले CPU और गाड़ी की नंबर प्लेट्स

अधिकारी ने बताया कि छापेमारी के दौरान एनआईए के कर्मचारियों ने क्लब और होटल में कुछ लोगों से पूछताछ की। जांच दल करीब तीन घंटे बाद वहां से रवाना हुआ। गामदेवी थाने के कुछ अधिकारी भी वहां मौजूद थे, क्योंकि यह इलाका इसी थाने के तहत आता है।

एनआईए के दूसरे दल ने ठाणे जिले के मीरा रोड स्थित एक फ्लैट की भी तलाशी ली। इस फ्लैट में एक महिला रहती थी और यह करीब दो सप्ताह से बंद था। उन्होंने बताया कि उस महिला को शाम में हवाई अड्डा पर हिरासत में ले लिया गया।

धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned