नागरिकता संशोधन बिल के खिलाफ पूर्वोत्तर में हिंसक प्रदर्शन, असम के डिब्रूगढ़ में सीएम आवास पर पथराव

  • पूर्वोत्तर में बिल के खिलाफ चल रहा है हिंसक प्रदर्शन
  • गुवाहाटी में कर्फ्यू जारी, विरोध प्रदर्शन भी तेज
  • कई भाजपाओं नेताओं के घर पर भी हमला

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन विधेयक संसद में भले ही बिल पास हो गया हो, लेकिन सड़क पर संग्राम जारी है। पूर्वोत्तर के कई राज्यों में बिल के खिलाफ भारी विरोध प्रदर्शन जारी है। असम, त्रिपुरा, अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर समेत पश्चिम बंगाल में इस बिल को लेकर हिंसक प्रदर्शन हो रहा है। डिब्रूगढ़ में विधानसभा की ओर मार्च निकालने पर पुलिस ने छात्रों पर लाठीचार्ज किया। जिसके बाद उग्र प्रदर्शनकारियों ने डिब्रूगढ़ में मुख्यमंत्री आवास पर पथराव किया है। हालांकि इसमें किसी तरह की हताहत की खबर नहीं है।

भाजपा नेताओं के घर पर हमला

वहीं गुवाहाटी में भी भाजपा विधायक प्रशान्त के घर पर हमला किया गया है। इसके साथ ही गुवाहाटी से लोकसभा सांसद क्वीन ओझा के घर में घुसकर प्रदर्शनकारियों ने प्रदर्शन किया और भाजपा नेता का पुतला फूंका। केंद्रीय राज्यमंत्री डॉ. हेमंत बिस्वा शर्मा के घर के बाहर भी काले झंडे दिखाए गए।

ये भी पढ़ें: इसरो इस तारीख को रचेगा इतिहास, निगरानी उपग्रह करेगा लॉन्च

ये भी पढ़ें: साल 2019 में मोदी सरकार के ये 6 बड़े फैसले, जिनका जनता पर पड़ा सीधा असर

असम और त्रिपुरा में मोबाइल और इंटरनेट सेवा ठप

असम की राजधानी दिसपुर में प्रदर्शन के दौरान छात्रों ने बस फूंक दी। वहीं असम के छाबुआ,पानितोला रेलवे स्टेशन को प्रदर्शनकारियों ने आग के हवाले कर दिया। इसके अलावा दिब्रूगढ़, तिनसुकिया के रेलवे स्टेशन को अलर्ट पर रखा गया है। असम के 10 जिलों में मोबाइल और इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई है। जबकि गुवाहाटी में अनिश्चितकालीन कर्फ्यू लगा दिया गया है।

ये भी पढ़ें: चौथी बार झारखंड दौरे पर पहुंचेंगे पीएम मोदी, धनबाद में चुनावी सभा को करेंगे संबोधित

 

eerrdd_1.jpg

प्रदर्शन को लेकर ट्रेनें और फ्लाइटें रद्द

नॉर्थ ईस्ट स्टूडेंट ऑर्गनाइजेशन (नेसो) के नेतृत्व में 30 छात्र और वाम संगठनों का समर्थन मिल रहा है। तीन दिन से जारी विरोध प्रदर्शन में परीक्षाएं रद्द कर दी गई हैं। वहीं प्रदर्शन की वजह से करीब 25 से ज्यादा ट्रेनों को कैंसल किया गया है या फिर रूट डायवर्ट किया गया है। इसके अलावा सभी को फ्लाइट रद्द कर दिया है।

Amit Shah pm modi
Prashant Jha
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned