Delhi में Coronavirus का सितम जारी, 31 जुलाई तक बंद रहेंगे स्कूल

  • Delhi Government ने Coronavirus के खतरे को देखते हुए सारे स्कूलों को 31 जुलाई तक बंद रखने का फैसला किया है
  • यह निर्णयDeputy Chief Minister Manish Sisadia की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में लिया गया, जो शिक्षा विभाग भी देखते हैं

नई दिल्ली। दिल्ली सरकार ( Delhi Government ) ने शुक्रवार को कोरोना वायरस ( Coronavirus ) के खतरे को देखते हुए शहर के सारे स्कूलों ( School Closed ) को 31 जुलाई तक बंद रखने का फैसला किया है। यह निर्णय उपमुख्यमंत्री मनीष सिसादिया ( Deputy Chief Minister Manish Sisodia ) की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में लिया गया, जो शिक्षा विभाग ( education Department ) भी देखते हैं। इस बैठक में शिक्षा निदेशक, शिक्षा सचिव और अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

Congress Leader Abhishek Manu Singhvi निकले Corona positive, स्टॉफ की रिपोर्ट आई निगेटिव

सिसोदिया ने केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक को इस माह की शुरुआत मे एक पत्र लिखा था, जिसमें उन्होंने स्कूलों की नई भूमिका को लेकर कदम उठाने की सलाह दी थी।शुक्रवार की बैठक का उद्देश्य स्कूलों के लिए एक कार्य योजना बनाना था, ताकि जब स्कूल जुलाई के बाद खुले, तो ये पूरी तरह से तैयार हो। शिक्षा निदेशालय को स्कूलों को खोलने को लेकर अप्रोच में बदलाव के कई सुझाव प्राप्त हुए, जिसके तहत ऑनलाइन क्लास को जारी रखना और अभिभावक की मदद से बच्चों के क्रियाकलापों पर सहमति बनी। सिलेबस में 50 फीसदी की कटौती करने को लेकर भी चर्चा की गई।

SC ने Airlines companies को दी राहत, Airplane में अब बीच की सीट खाली रखने की नहीं जरूरत

jt.png

PM Modi के निशाने पर Congress-‘नेहरू के समय कुंभ भगदड़ में मारे गए लोगों के आंकड़े छुपाए गए थे

सिसोदिया ने कहा कि चलिए स्कूलों को खोलने के लिए इस तरह की योजना बनाते हैं जो नए परिस्थितियों में हमारे छात्रों को तैयार करे और उन्हें डराए नहीं। यह हमारे छात्रों को कोरोना के साथ जिंदगी जीना सिखाएगा। एक अन्य सुझाव यह भी दिया गया कि प्राइमरी कक्षाओं को सप्ताह में एक या दो बार केवल 12-15 छात्रों के साथ आयोजित किया जाए। इसी तरह से, शिक्षा मंत्री को यह सुझाव दिया गया कि कक्षाओं को सप्ताह में एक या दो बार कम समूहों में आयोजित किया जाना चाहिए।कुछ सदस्यों को मानना था कि कक्षा 10 के छात्रों के लिए हर दिन कक्षाएं आयोजित की जानी चाहिए।

यह भी सुझाव दिया गया कि कक्षा 11 व 12 को एक दिन छोड़कर आयोजित किया जाना चाहिए और बचे दिनों में ऑनलाइन कक्षाओं को चलाना चाहिए।

Coronavirus In India in Hindi Coronavirus in india
Show More
Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned