इस राज्य में Coronavirus की नई लहर! 42 दिन बाद सामने आए सबसे ज्यादा मामले

  • Corona Vaccination के बीच महाराष्ट्र में कोविड-19 की नई लहर की आशंका
  • 42 दिन बाद प्रदेश में सबसे ज्यादा कोरोना के केस
  • केरल को भी महाराष्ट्र ने पीछे छोड़ा

नई दिल्ली। देशभर में कोरोना वायरस ( Coronavirus )महामारी से निपटने के लिए वैक्सीनेशन अभियान जोरों पर है। देश के कई इलाकों में दूसरी खुराक देने भी शुरू कर दिया गया है, लेकिन इस बीच बड़ी खबर ने हर किसी की चिंता बढ़ा दी है। दरअसल महाराष्ट्र ( Coronavirus in Maharashtra ) में एक बार फिर कोरोना वायरस के मामले बढ़ रहे हैं।

इस बात की आशंका भी जताई जा रही है कि ये कोरोना वायरस की नई लहर भी हो सकती है। ऐसा हुआ तो टीकाकरण के बीच ये एक बार फिर चिंता बढ़ाने वाला साबित हो सकता है।

पश्चिम बंगाल के चुनाव में मिथुन चक्रवर्ती की एंट्री! आरएसएस चीफ मोहन भागवत ने की मुलाकात

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस (Corona Virus) का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। मामलों में रिकॉर्ड गिरावट के 42 दिन बाद महाराष्ट्र एक बार फिर देश का सर्वाधिक प्रभावित राज्य बन गया है।

3365 नए कोविड-19 मरीजों के साथ राज्य ने केरल को भी पीछे छोड़ दिया है। केरल में सोमवार को 2884 मरीज मिले थे। खास बात यह है कि राज्य में बीते साल 30 नवंबर के बाद पहली बार इतने मामले मिले हैं।

डिप्टी सीएम अजित पवार ने कहा, अगर मामले लगातार बढ़ते रहे, तो हमें एक बार फिर प्रदेश में कड़े कदम उठाने होंगे।

राम मंदिर चंदे मामले में पूर्व मुख्यमंत्री ने दिया बड़ा बयान, बोले- दान नहीं देने वालों के घरों को चिन्हित कर रही आरएसएस

आपको बता दें कि सोमवार को राज्य में 23 मौतें भी हुई हैं। इस लिहाज से महाराष्ट्र में संक्रमितों का आंकड़ा 20 लाख 67 हजार 643 पर पहुंच गया है। वहीं अब तक 51 हजार 552 मरीजों की मौत हो चुकी है। पिछले 6 दिन से प्रदेश में रोज 3 हजार से ज्यादा मामले मिल रहे हैं।

पिछले दिनों महाराष्ट्र सरकार ने केरल से आने वाले यात्रियों के लिए RT-PCR टेस्ट अनिवार्य कर दिया है। पूरे देश के मुकाबले केरल और महाराष्ट्र में कोरोना के हाल बेकाबू नजर आ रहे थे।

धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned