scriptGovernment explained Why corona vaccine is not being applied to every person | आखिर क्यों हर व्यक्ति को नहीं लगाया जा रहा है कोरोना टीका? सरकार ने बताई वजह | Patrika News

आखिर क्यों हर व्यक्ति को नहीं लगाया जा रहा है कोरोना टीका? सरकार ने बताई वजह

Coronavirus Vaccination In India: स्वास्थ्य मंत्रालय ने जानकारी देते हुए ये बताया कि कोरोना टीकाकरण अभियान के दो उद्देश्य हैं- पहला ये कि देश में तेजी से हो रहे मौतों को रोकना और दूसरा ये कि स्वास्थ्य सेवा प्रणाली की रक्षा करना है।

नई दिल्ली

Updated: April 06, 2021 07:47:43 pm

नई दिल्ली। कोरोना महामारी के संकट से गुजर रहे देश में एक बार फिर से काफी तेजी के साथ संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। हालांकि, दूसरी तरफ कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए एहतियाती कदम उठाने के साथ ही तेज गति से कोरोना टीकाकरण भी किया जा रहा है।

covid-vaccination.jpg
Government explained Why corona vaccine is not being applied to every person

1 अप्रैल से 45 साल से अधिक आयुवर्ग के सभी लोगों को टीका लगाने की इजाजत दी गई है। लेकिन कुछ लोग ये सवाल उठा रहे हैं कि कोरोना वैक्सीन का टीका हर किसी को क्यों नहीं लगाया जा रहा है। लोग केंद्र सरकार से ये मांग कर रहे हैं कि टीका हर किसी को लगवाने की इजाजत दी जाए।

यह भी पढ़ें
-

कोरोनावायरस वैक्सीनेशन कराने वालों को यूपी सरकार देगी इनाम, रकम जानेंगे तो हो जाएंगे दंग

बीते दिनों दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बीते दिन सोमवार को पीएम मोदी को पत्र लिखकर ये मांग की थी कि टीका देने के लिए उम्र संबंधी नियमों में छूट दी जाए, ताकि जल्द से जल्द कोरोना संक्रमण को फैलने में सफलता मिले। वहीं, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने भी 25 साल से अधिक की आयु के लोगों को टीकाकरण के लिए छूट दिए जाने को लेकर पीएम मोदी को पत्र लिखा है। अब मंगलवार को केंद्र सरकार की ओर से ये बताया गया है कि आखिर क्यों हर किसी को वैक्सीन लगाने की इजाजत नहीं दी जा रही है?

इस वजह से सभी को वैक्सीन लगाने की नहीं है इजाजत

आपको बता दें कि मंगलवार को स्वास्थ्य मंत्रालय ने जानकारी देते हुए ये बताया है कि आखिर क्यों देश में सभी के लिए वैक्सीनेशन को अनुमति नहीं दी जा रही है। स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने प्रेस वार्ता के दौरान कहा कि बहुत से लोग पूछते हैं कि हम सभी के लिए टीकाकरण करने की इजाजत क्यों नहीं दे रहे हैं?

उन्होंने कहा कि चूंकि कोरोना टीकाकरण अभियान के दो उद्देश्य हैं- पहला ये कि देश में तेजी से हो रहे मौतों को रोकना और दूसरा ये कि स्वास्थ्य सेवा प्रणाली की रक्षा करना है। वैक्सीनेशन का उद्देश्य ये नहीं है कि जो लोग चाह रहे हैं उनके लिए वैक्सीन उपलब्ध कराया जाए, बल्कि जिन्हें वैक्सीन की सख्त और सबसे पहले जरूरत है उन्हें उपलब्ध कराना प्राथमिकता है।

अब तक 8.31 करोड़ खुराक दी गई

स्वास्थ्य सचिव ने जानकारी देते हुए बताया कि सोमवार को भारत में कोरोना वैक्सीन की 43 लाख खुराक लोगों को दी गई, जो कि एक दिन में लगाया गए सर्वाधिक टीके का रिकॉर्ड है। उन्होंने बताया कि मंगलवार सुबह तक वैक्सीन की 8.31 करोड़ खुराकें दी जा चुकी हैं।

यह भी पढ़ें
-

Covid-19 : स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन बोले - कोरोना की दूसरी लहर को रोकने के लिए वैक्सीनेशन जरूरी

वहीं अन्य देश की बात करें तो कोरोना से सबसे अधिक प्रभावित अमरीका में वैक्सीन लगाने का दैनिक औसत 30.53 लाख खुराक है, वहीं भारत में हर दिन औसतन 26.53 लाख वैक्सीन खुराक लगाई जा रही है। एक रिपोर्ट के अनुसार, अमरीका में 112 दिनों में 16 करोड़ खुराकें दी गई हैं, जबकि भारत में 79 दिनों में 8.31 करोड़ खुराकें दी गई हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

'हर घर तिरंगा' अभियान में शामिल हुई PM नरेंद्र मोदी की मां हीराबेन, बच्‍चों के संग फहराया राष्‍ट्रीय ध्‍वज7,500 स्टूडेंट्स ने मिलकर बनाया सबसे बड़ा ह्यूमन फ्लैग, गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हुआ नामबिहारः सत्ता गंवाते ही NDA के 3 सांसद पाला बदलने को तैयार, महागठबंधन में शामिल होने की चल रही चर्चा'फ्री रेवड़ी ' कल्चर व स्कूल के मुद्दे पर संबित्र पात्रा ने AAP को घेरा, कहा- 701 स्कूलों में प्रिंसिपल नहीं, 745 स्कूलों में नहीं पढ़ाया जाता विज्ञानPM मोदी ने कॉमनवेल्थ गेम्स में हिस्सा लेने वाले दल से मुलाकात की, कहा- विजेताओं से मिलकर हो रहा गर्वप्रियंका के बाद अब सोनिया गांधी भी दोबारा हुईं कोरोना पॉजिटिव, तेजस्वी यादव ने कल ही की थी मुलाकातजम्मू कश्मीर में टेरर लिंक मामले में बिट्टा कराटे की पत्नी समेत चार सरकारी कर्मचारी बर्खास्त2009 में UPSC किया टॉप, 2019 में राजनीति के लिए नौकरी छोड़ी, अब 2022 में फिर कैसे IAS बने शाह फैसल?
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.