16 मई का इतिहास: वैज्ञानिकों को मिली थी बड़ी सफलता, जानिए अटल बिहारी, सिक्किम, कोलकाता से जुड़ी अन्य घटनाएं

आज 16 मई के दिन देश और दुनिया में कई महत्वपूर्ण घटनाएं घटी जो हमेशा के लिए इतिहास के पन्नों में दर्ज है। आइए जानते है आज के एक विशेष वैज्ञानिक उपलब्धि के साथ— साथ इस दिन जन्में खास व्यक्तियों के बारे में और जो इस दुनिया को अलविदा कह चुके है।

History of the Day : इतिहास सिर्फ अपने में घटनाओं को नहीं समेटे होता है बल्कि इन घटनाओं से भी आप बहुत कुछ सीख सकते हैं। ऐसा कहते है कि इतिहास से अच्छा शिक्षक कोई दूसरा नहीं हो सकता। इसी कड़ी में जानते है, आज 16 मई (History of 16 May) के दिन देश (भारत) और दुनिया (विश्व) में कई महत्वपूर्ण घटनाएं घटी जो हमेशा के लिए इतिहास के पन्नों में दर्ज है। आइए जानते है आज के एक विशेष वैज्ञानिक उपलब्धि के साथ— साथ इस दिन जन्में खास व्यक्तियों के बारे में और जो इस दुनिया को अलविदा कह चुके है।

इंसानी क्लोन भ्रूण से अलग किया गया था स्टेम सेल
स्टेम सेल का चिकित्सकीय दुनिया में बहुत महत्व माना जाता है। स्टेम सेल या मूल कोशिकाएं वे कोशिकाएं होती हैं जो वैसे तो किसी खास तरह की कोशिका नहीं होती हैं, लेकिन उनमें खुद को किसी भी प्रकार की कोशिका में बदलने की क्षमता होती है। वैज्ञानिक एक दशक से भी ज्यादा समय से मानव के क्लोन किए भ्रूण से स्टेम सेल को निकालने का प्रयास कर रहे थे। 16 मई 2013 को अमेरिकी वैज्ञानिकों ने इंसानी भ्रुण के क्लोन से पहली बार स्टेम सेल निकालने में सफलता हासिल की थी।

यह भी पढ़ें :— दिल्ली में लॉकडाउन से शहर के उद्योग को एक बड़ा झटका लगा


अटल बिहारी वाजपेयी ने 10वें प्रधानमंत्री के रूप में ली थी शपथ
एमपी के ग्वालियर के शिंदे की छावनी में जन्मे पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी एक सम्मानजनक व्यक्ति और देश महानतम राजनेताओं में से एक थे। 25 साल पहले अटल बिहारी वाजपेयी ने 16 मई 1996 को देश के 10वें प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली थी। किन्तु इस बार इनको संख्या बल के आगे त्याग-पत्र देना पड़ा था। अटल बिहारी वाजपेयी एक दिग्गज नेता थे और उन्होंने विरोधी दलों के बीच भी एक खास मुकाम हासिल किया था।

यह भी पढ़ें :— देश का पहला मामला: शेर भी कोरोना की चपेट में, हैदराबाद के चिड़ियाघर में 8 एशियाई शेर पॉजिटिव


अन्य महत्वपूर्ण घटनाओं का सिलसिलेवार ब्योरा इस प्रकार है:-

1911 : कलकत्ता : अब कोलकाता में बने तल्लाह वाटर टैंक का निर्माण पूरा। इसे उस समय दुनिया का सबसे बड़ा ओवरहैड वाटर टैंक कहा गया था।

1920 : फ्रांसीसी स्वतंत्रता सेनानी, सेनापति जॉन ऑफ आर्क को संत की उपाधि दी गयी।

1943 : वॉरसॉ में यहूदी बस्तियों में चल रही लड़ाई ख़त्म हो गई। पुलिस और कमांडो दल ने 19 अप्रैल को इन बस्तियों में प्रवेश किया थौ

1960 : भारत और ब्रिटेन के बीच अन्तरराष्ट्रीय टेलेक्स सेवा की शुरूआत।

1974 : इस्राइल के लड़ाकू विमानों ने सात फ़लस्तीनी शरणार्थी शिविरों और दक्षिणी लेबनान के गांवों पर बम दागे। इन हमलों में 27 लोग मारे गए और 138 अन्य घायल हुए।

1975 : सिक्किम को 22वें राज्य के रूप में भारतीय संघ में शामिल किया गया।


2004 : टेनिस खिलाड़ी रोजर फ़ेडेरर ने हेम्बर्ग मास्टर्स ख़िताब जीता।

2006 : हॉलीवुड की चर्चित अदाकारा नाओमी वाट्स को संयुक्त राष्ट्र संस्था का राजदूत बनाया गया।

2006 : न्यूजीलैंड के 47 वर्षीय मार्क इंजलिस कृत्रिम पैरों के सहारे एवरेस्ट की चोटी पर चढने वाले पहले व्यक्ति बने।

2007 : निकोलस सरकोजी का फ्रांस के राष्ट्रपति के तौर पर कार्यकाल की शुरूआत।

2008 : उच्चतम न्यायालय ने केन्द्रीय शिक्षण संस्थानों के स्नाकोत्तर पाठ्यक्रमों में 27 प्रतिशत ओबीसी कोटा पर रोक के कोलकाता हाईकोर्ट के फैसले को ख़ारिज किया।

2014 : भारतीय उद्योगपति रुस्तमजी होमसजी मोदी का निधन।

Shaitan Prajapat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned