भारत ने निभाया पड़ोसी धर्म, चीन के 10 समुद्री जहाजों को चक्रवाती तूफान वायु से बचाया

भारत ने निभाया पड़ोसी धर्म, चीन के 10 समुद्री जहाजों को चक्रवाती तूफान वायु से बचाया

Chandra Prakash Chourasia | Publish: Jun, 11 2019 08:21:31 PM (IST) | Updated: Jun, 12 2019 08:21:29 AM (IST) इंडिया की अन्‍य खबरें

  • चक्रवाती तूफान वायु के विकराल रूप से घबराया चीन
  • चीन ने भारत से मांगी 10 समुद्री जहाजों के लिए पनाह
  • भारतीय कोस्ट गार्ड ने चीनी पोतों को रत्नागिरी बंदरगाह पर दी शरण

नई दिल्ली। वैसे तो भारत और चीन के तल्ख रिश्ते किसी से छिपे हुए नहीं हैं। सीमा विवाद और पाकिस्तान की आतंकी गतिविधियों को लेकर भी दोनों मुल्कों के बीच अक्सर तनाव देखने को मिलता है। लेकिन चक्रवाती तूफान वायु ( Cyclone VAYU ) के प्रभाव से चीनी जहाजों को बचाने के लिए भारत ने पड़ोसी होने का धर्म निभाया है। भारतीय तटरक्षक बल ( Indian Coast Guard ) ने चीन के 10 समुद्री पोतों को अरब सागर से भारत की सीमा में शरण दी है।

चक्रवाती तूफान वायु का असर दिखना शुरू, दक्षिण गुजरात के कई इलाकों में झमाझम बारिश

सुरक्षा घेरे में चीनी समुद्री जहाज

भारतीय तटरक्षक के महानिरीक्षक केआर सुरेश ने बताया कि 10 चीनी पोतों को महाराष्ट्र के रत्नागिरी बंदरगाह ( Ratnagiri ) में शरण दिया गया है। भारतीय तटरक्षक बल ने मानवीय आधार पर उन्हें सुरक्षा घेरा के तहत वहां रहने की इजाजत दी है

मोदी सरकार का फैसलाः मुख्यधारा से जुड़ेंगे मदरसे, 5 करोड़ अल्पसंख्यकों को स्कॉलरशिप

उत्तर-पश्चिम क्षेत्र की ओर बढ़ा वायु

बता दें कि अरब सागर से दक्षिण-पूर्वी और पूर्वी-मध्य क्षेत्र के ऊपर चक्रवाती तूफान 'वायु' का प्रकोप देख जा रहा है। मौसम विभाग ने बताया कि चक्रवाती तूफान वायु 11 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से उत्तर-पश्चिम क्षेत्र की ओर बढ़ रहा है।

कब कहां होगा वायु का असर

भारतीय मौसम विभाग की ओर से मंगलवार जारी बुलेटिन में चक्रवाती तूफान 'वायु' के समय की जानकारी दी गई। विभाग ने बताया कि तूफान 11 जून को तड़के दो बजकर 30 मिनट पर अरब सागर के पूर्वी-मध्य हिस्से के ऊपर पहुंच गया। तूफान वायु अभी लक्षद्वीप से 410 किलोमीटर, मुंबई से 600 किलोमीटर और गुजरात से 740 किलोमीटर की दूरी पर बना हुआ है। चक्रवाती तूफान वायु के अगले 24 घंटों के दौरान भीषण रूप लेने की आशंका है। तूफान वायु के 13 जून की सुबह तक गुजरात के पोरबंदर और महुआ तट तक पहुंचने की आशंका है। वायु के कारण 110-135 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चल सकती हैं।

मोदी सरकार को फिर नीतीश कुमार का झटका, बोले- कश्मीर से धारा 370 हटाने का करेंगे विरोध

केंद्र सरकार ने राहत-बचाव के लिए कसी कमर

सरकार ने किसी भी तरह के नुकसान से बचने के लिए तैयारी पूरी कर ली है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को एक उच्च स्तरीय बैठक की। तूफान से प्रभावित होने वाले राज्य के मंत्रालयों और एजेंसी ने शाह ने बातचीत की है। उन्होंने सभी को यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं कि चक्रवाती तूफान 'वायु' जिन इलाकों से गुजरे वहां के लोगों की हर संभव सुरक्षा की जा सके।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned