स्वतंत्रता दिवस से ठीक पहले बड़ी आतंकी साजिश नाकाम, जैश-ए-मोहम्मद के 4 आतंकी गिरफ्तार

स्वतंत्रता दिवस से ठीक एक दिन पहले यानी शनिवार (14 अगस्त) को जम्मू-कश्मीर पुलिस ने खुफिया जानकारी के आधार पर आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammed) के मॉड्यूल का भंडाफोड करते हुए चार आतंकियों को गिरफ्तार किया है।

जम्मू। पूरा देश आजादी के 75वें (75th Independence Day) साल को सेलेब्रेट करने के लिए तैयारियों में जुटा है वहीं, दूसरी तरफ आतंकी इस विशेष मौके पर बड़ी घटना को अंजाम देने की साजिश रच रहे हैं। लेकिन आतंकियों के इस नापाक साजिशों नाकाम करने के लिए भारतीय सेना के जाबांज सीमा पर और आंतरिक मोर्चे पर पुलिस के जवान डटे हुए हैं।

इसी कड़ी में स्वतंत्रता दिवस से ठीक एक दिन पहले यानी शनिवार (14 अगस्त) को एक बड़ी आतंकी साजिश को नाकाम किया गया। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammed) के चार आतंकियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने खुफिया जानकारी के आधार पर जैश के मॉड्यूल का भंडाफोड करते हुए इन चारों आतंकियों को धर दबोचा है।

यह भी पढ़ें :- जम्मू-कश्मीर : 15 अगस्त से पहले दो बड़ी कामयाबी, कुलगाम में एक आतंकी ढेर, किश्तवाड़ से एक गिरफ्तार

अभी तक की पूछताछ में पुलिस को पता चला है कि ये आतंकी मोटरसाइकिल IED का इस्तेमाल कर एक बड़े हमले को अंजाम देने वाले थे। हालांकि, पुलिस की मुस्तैदी से आतंकियों के साजिश नाकाम हो गई और चारों आतंकी पुलिस के हत्थे चढ़ गए।

आतंकियों ने पूछताछ में यह भी खुलासा किया है कि वह देश भर में हमले की तैयारी कर रहे थे। पुलिस ने जिन चार आतंकियों को पकड़ा है उनकी पहचान- कश्‍मीर के शोपियां के रहने वाले तौसीफ अहमद शाह ऊर्फ शौकत ऊर्फ अदनान, उत्तर प्रदेश के शामली के रहने वाले इजहार खान ऊर्फ सोनू खान, पुलवामा के रहने वाले जहांगीर अहमद भट्ट और मुतिंजर मंजूर के रूप में हुई है।

इस तरह से हुआ आतंकियों की गिरफ्तारी

जानकारी के अनुसार, पुलिस ने सबसे पहले पुलवामा के रहने वाले मुंतजिर मंजूर को गिरफ्तार किया। पुलिस को मुंतजिर के पास से एक पिस्टल, एक मैगजीन और 8 राउंड कारतूस, दो चीनी हैंडग्रेनेड बरामद किए गए हैं। आतंकी मंजूर इन सभी हथियारों को ले जाने के लिए ट्रक का इस्तेमाल कर रहा था। पुलिस ने ट्रक को भी सीज कर लिया है।

इसके बाद पुलिस ने दूसरे आतंकी इजाहर खान उर्फ सोनू खान को गिरफ्तार किया। सोनू उत्तर प्रदेश के शामली के कंडाला का रहने वाला है। पूछताछ में सोनू ने बताया कि पाकिस्तान के जैश कमांडर मुनाजिर खान ने अमृतसर से हथियार इकट्ठा करने के लिए कहा था, जो ड्रोन से गिराए गए थे। इसके अलावा उन्हें पानीपत ऑयल रिफाइनरी और अयोध्या में राम जन्मभूमि की रेकी करने के लिए कहा गया था। जिसके बाद उसने रिफाइनरी का वीडियो बनाकर पाकिस्तान भेजा था। अयोध्या में राम जन्मभूमि की रेकी करने वाला था लेकिन वह उससे पहले ही गिरफ्तार हो गया।

यह भी पढ़ें :- Jammu-Kashmir: 1 घंटे के भीतर आतंकियों ने किया दूसरा ग्रेनेड हमला, सर्च ऑपरेशन जारी

इस जानकारी के आधार पर पुलिस ने शोपियां के रहने वाले तौफीक को गिरफ्तार किया। तौफिक को IED ब्लास्ट करने के लिए बाइक खरीदने का काम दिया गया था। तौफीक ऐसा करता उससे पहले ही गिरफ्तार हो गया। इसके अलावा पुलवामा के ही रहने वाला आतंकी जहांगीर अहमद भट्ट को भी गिरफ्तार किया गया। वह कश्मीर में फल व्यापारी है। वह घाटी में जैश के लिए युवाओं की भर्ती करने का काम करता था।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned