पाकिस्तान की सूचना के बाद हाई अलर्ट पर कश्मीर, पुलवामा में हमले की फिराक में आतंकी

पाकिस्तान की सूचना के बाद हाई अलर्ट पर कश्मीर, पुलवामा में हमले की फिराक में आतंकी

Mohit sharma | Publish: Jun, 16 2019 11:37:01 AM (IST) | Updated: Jun, 16 2019 05:22:35 PM (IST) इंडिया की अन्‍य खबरें

  • जाकिर मूसा की मौत का बदला लेने की फिराक में आतंकी
  • पाकिस्तान की ओर से यह सुचना भारत के साथ साझा की गई
  • सूचना के बाद जम्मू-कश्मीर में कर दिया गया हाई अलर्ट जारी

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर में आतंकवादी जाकिर मूसा की मौत का बदलाने लेने की फिराक में हैं। पाकिस्तान की ओर से कथित तौर पर यह सूचना भारत के साथ साझा की गई है, जिसके बाद जम्मू-कश्मीर में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। एक अंग्रेजी अखबार के अनुसार पाकिस्तान की ओर से भारत-US को दी गई सूचना में बताया गया है कि आतंकी पुलवामा में बड़ा हमला कर सकते हैं। ये आतंकी अवंतीपोरा के करीब किसी वाहन में विस्फोटक छिपा कर बड़े हमले को अंजाम दे सकते हैं।

डॉक्टर्स ने हड़ताल में दिए नरमी के संकेत, सीएम ममता बनर्जी से बातचीत को तैयार

 

kashmir

दिल्ली के 18 अस्पतालों में आज कामकाज ठप, AIIMS के डॉक्टरों का ममता सरकार को अल्टीमेटम

पाकिस्तान ने अमरीका के साथ यह जानकारी शेयर की थी

एक सुरक्षा अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि पाकिस्तान ने अमरीका के साथ यह जानकारी शेयर की थी। पाक की ओर कहा गया कि आतंकी पिछले महीने त्राल में एक ऑपरेशन के दौरान मारे गए जाकिर मूसा की मौत का बदला लेने की योजना बना रहे हैं।।

पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में बम से हमला, TMC कार्यकर्ता के 3 रिश्तेदारों की हत्या

जाकिर मूसा की हत्या का बदला लेने की योजना

सुरक्षा अधिकारी के अनुसार “पाकिस्तान ने इस्लामाबाद में हमारे उच्चायोग के साथ इस तरह के हमले की संभावना के बारे में यह जानकारी साझा की। उन्होंने यह जानकारी अमरीका के साथ भी साझा की थी, जिन्होंने भी हमें सूचित किया था। इसलिए यह जानकारी सीधे अमरीका के माध्यम से हमारे पास पहुंची है। अधिकारी ने कहा, "पाकिस्तानियों का कहना है कि जाकिर मूसा की हत्या का बदला लेने की योजना बनाई जा रही है।"

pak

VIDEO: दिल्ली के 18 अस्पतालों में हड़ताल, हेल्मेट पहनकर मरीज देख रहे डॉक्टर

यह सुनिश्चित करने के लिए उठाया कदम

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार मूसा मई 2017 में हिज्बुल मुजाहिदीन से अलग हो गया था। जिसके बाद उसने कश्मीर में अल-कायदा के सहयोगी के रूप में अंसार गजावत-उल-हिंद नाम के संगठन का नेतृत्व किया। सुरक्षा अधिकारी ने कहा कि पाकिस्तान ने यह कदम यह सुनिश्चित करने के लिए उठाया था कि अगर कोई हमला होता है तो वह आरोपों से बच सकता है।

तीन तलाक के बिल पर भाजपा समर्थन नहीं करेगी जेडीयू, कांग्रेस करेगी पुरजोर विरोध

pak
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned