Kerala Gold Smuggling Case : पूर्व प्रधान सचिव ने जमानत के लिए खटखटाया हाईकोर्ट का दरवाजा

  • प्रवर्तन निदेशालय की टीम ने अक्टूबर में शिवशंकर को गिरफ्तार किया था।
  • पूर्व नौकशाह गोल्ड स्मगलिंग मामले में जमानत लेने में अभी तक नाकाम रहे हैं।

नई दिल्ली। केरल गोल्ड स्मगलिंग केस में नाम आने के बाद गिरफ्तार प्रदेश के सीएम के पूर्व प्रधान सचिव एम शिवशंकर ने जमानत के लिए हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। अक्टूबर में उन्हें प्रवर्तन निदेशालय (ED) की टीम ने एक अस्पताल से केरल गोल्ड स्मगलिंग मामले में गिरफ्तार किया था। इस मामले में शिवशंकर को अभी तक जमानत नहीं मिली है। अब उन्होंने एक याचिका दायर कर मनी लॉन्ड्रिंग मामले में हाईकोर्ट से जमानत देने की अपील की है।

इससे पहले 22 अक्टूबर को प्रवर्तन निदेशालय ने केरल उच्च न्यायालय को बताया था कि सोने की तस्करी मामले में पूर्व प्रमुख सचिव की हिरासत की सघन जांच जरूरी है। ईडी ने कहा कि शिवशंकर के ताड़ स्वप्ना सुरेश और अन्य लोगों के साथ जुड़े हैं। यह मामला गंभीर आर्थिक अपराधों की श्रेणी में आता है।

3 एजेंसियां कर रही हैं जांच

बता दें कि ED, सीमा शुल्क और राष्ट्रीय जांच एजेंसी ( NIA ) राजनयिक चैनल के माध्यम से सोने की तस्करी में शिवशंकर की भूमिका की जांच कर रही हैं।

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned