केरलः शिकंजी और आइसक्रीम बेचकर बनीं पुलिस अफसर, जानिए कैसे महिला ने हर मुसीबात को दी मात

महज 21 की उम्र में केरल की महिला एनी पति से हुईं थीं अलग, माता-पिता ने भी घर पर रखने से किया इंकार, 10 वर्षों में हौसलों से दी मुश्किलों को मात देकर हासिल किया प्रेरणा देने वाला मुकाम

नई दिल्ली। केरल पुलिस की एक महिला पुलिस सब इंसपेक्टर ( Sub-Inspector ) के संघर्ष की ऐसी कहानियां सामने आई है, जो दूसरों को भी प्रेरित कर रही हैं। एनी शिवा ने जिंदगी के बुरे वक्त में अपने हौसलों के दम पर जिंदगी में आई हर मुसीबत को मात देकर खास मुकाम हासिल किया है।

महज 21 की उम्र में एनी को पति ने छोड़ दिया था, हाथ में 8 महीने की बच्ची और मां-बाप ने भी घर में रखने से कर दिया था इनकार, जीवन की ऐसे कठिन इम्तिहान का एनी डटकर सामना किया और ना सिर्फ हालातों को बदला बल्कि दूसरों के लिए भी एक प्रेरणा बन गईं।

यह भी पढ़ेंः कोरोना संकट के बीच भारत ने इस मामले में बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड, जानिए किन देशों को छोड़ा पीछे

506.jpg

केरल के तिरुवनंतपुरम जिले के कांजीरामकुलम की रहने वाली एनी शिवा जिन्होंने अपनी लाइफ में ऐसा संघर्ष देखा, जिससे अच्छे-अच्छे बिखर जाते हैं। लेकिन एनी ने हार नहीं मानी और सब इंस्पेक्टर बनकर दूसरी महिलाओं के लिए भी एक प्रेरणा बनकर उभरी हैं।

21 साल की होने से पहले ही तिरुवनंतपुरम के कांजीरामकुलम की रहने वाली एसपी ऐनी पति से अलग हो गई थीं। उस समय उनका आठ महीने का बच्‍चा भी था। उनके मां बाप ने उन्‍हें घर पर रखने से मना कर दिया था।

इसके बाद वह अपनी दादी के घर पर जाकर रहीं। उन्‍हें आजिविका चलाने के लिए हर तरह की जॉब भी कीं। उन्‍होंने घर-घर जाकर इंश्‍योरेंस बेचा, फिर शिकंजी बेची तो त्‍योहारों पर मेलों में आइसक्रीम भी बेची, लेकिन उन्‍होंने अपने सपनों के रास्‍ते में किसी भी अड़चन को आड़े नहीं आने दिया।

10 वर्ष का कड़ा संघर्ष
पति से अलग होने के बाद एनी ने करीब 10 वर्ष का कड़ा संघर्ष किया। अब वे 31 वर्ष की हो चुकी है, लेकिन इन दस वर्षों में एनी ने अपनी मुसीबतों को हौसले से मात दी है। उनके इस हौसले ने उन्हें वरखला पुलिस स्‍टेशन की सब इंस्‍पेक्‍टर के तौर पर नई जिंदगी शुरू करने का मौका दिया है।

ऐनी ने हाल में अपना पदभार भी संभाला लिया है। इसके बाद से ही उन्‍हें फिल्‍म स्‍टार शुभकानाएं दे रहे हैं।

यह भी पढ़ेँः क्या डेल्टा प्लस पर काबू पाने के लिए बदलनी पड़ेगी वैक्सीन की संरचना? जानिए विशेषज्ञों के सुझाव

इसलिए अभिभावकों ने घर पर रखने से किया इनकार
दरअसल अपने ग्रेजुएशन के पहले साल में ही ऐनी ने माता-पिता के खिलाफ जाकर अपनी पसंद के लड़के से शादी कर ली थी। यही वजह रही कि जब एनी पति से अलग हुई तो नाराज अभिभावकों ने भी उसे अपने यहां रखने से इनकार कर दिया।

दादी के साथ रहने के दौरान उन्‍होंने अपनी शिक्षा को लेकर कभी समझौता नहीं किया। उन्‍होंने पहले ग्रेजुएशन पूरा किया और बाद में डिस्‍टेंस लर्निंग से पोस्‍ट ग्रेजुएशन किया।

जहां बेचा नींबू पानी, वहीं संभाला SI का पद
एनी शिवा ने जिस पुलिस स्टेशन में सब-इंस्पेक्टर का पद संभाला, ये वही जगह है जहां एक वक्त उन्होंने नींबू पानी बेचा था। दरअसल बीमा पॉलिसी में जब एनी को ज्यादा कामयाबी हासिल नहीं हुई तो उन्होंने त्योहारों और खास मौकों पर नींबू पानी और आइस्क्रीम बेचना शुरू कर दिया।

धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned