वैक्सीन के सर्टिफिकेट में हैं गलतियां तो अब खुद ऑनलाइन कर सकते हैं सुधार, जानिए कैसे?

अगर वैक्सीन के सर्टिफिकेट में आपके नाम, जन्मतिथि या कोई कोई गलती हुई है तो आप उन्हें ठीक कर सकते हैं। केंद्र सरकार ने एक नए अपडेट की घोषणा की है, जिसमें अब आप सर्टिफिकेट पर अपना नाम, डेट ऑफ बर्थ और सेक्स को बदल सकते हैं।

नई दिल्ली। महामारी कोरोना वायरस के खिलाफ देशभर में टीकाकरण अभियान चल रहा है। पिछले महीने वैक्सीनेशन का तीसरा चरण शुरू किया गया था। कोरोना का टीका लगवाने के बाद सभी को कोविड-19 टीकाकरण प्रमाण-पत्र दिया जाता है। कई लोगों को टीकाकरण प्रमाण-पत्र में काफी गलतियों को सामना करना पड़ा। अब वे लोग खुद कोविड-19 टीकाकरण प्रमाण-पत्र में हुई गलतियों को कोविन पोर्टल पर अब खुद ही ठीक कर सकते हैं। केंद्र सरकार ने एक नए अपडेट की घोषणा की है, जिसमें अब आप सर्टिफिकेट पर अपना नाम, डेट ऑफ बर्थ और सेक्स को बदल सकते हैं।

यह भी पढ़ें :— तीसरी लहर से पहले खुशखबरी: इस महीने आ सकती है बच्चों की स्वदेशी वैक्सीन, टीके के तीसरे चरण का परीक्षण पूरा

 

ऐसे करें प्रमाण पत्र में सुधार
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अतिरिक्त सचिव विकास शील ने बताया कि उपयोगकर्ता कोविन वेबसाइट के जरिए अपने टीकाकरण प्रमाण पत्र में गलती को सुधार सकते है। आरोग्य सेतु ऐप के आधिकारिक हैंडल से ट्वीट कर इसके बारे में जानकारी दी गई है। ट्वीट में लिखा, अगर कोविन टीकाकरण प्रमाण-पत्रों में अनजाने में आपके नाम में, जन्मतिथि में और जेंडर में कोई त्रुटि हुई है तो आप उन्हें आसानी से ठीक कर सकते हैं। गलती ठीक करने के लिए आपको कोविन की वेबसाइट पर जाना होगा और इस संबंध में अपनी परेशानी बतानी होगी।

यह भी पढ़ें :— भारतीय वैज्ञानिक दंपती ने खोली चीन की पोल : वुहान लैब से लीक हुआ कोरोना वायरस, शोध में दी ये अहम जानकारी

कोविन पोर्टल ऐसे करता है टीकाकरण का सत्यापन
जिन लोगों ने कोरोना की एक खुराक ली है उनके होम स्क्रीन पर टीकाकरण स्थिति के सामने नीले रंग का एक टिक नजर आता है। वहीं दो लोग दोनों डोज ले चुके है उनके ऐप पर 14 दिन के बाद नीले रंग के दो टिक दिखाई देते है। यह दिनों टिक कोविन पोर्टल से टीकाकरण के सत्यापन के बाद ही नजर आते है। राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान के तहत अब तक कोविड-19 की कुल 23 करोड़ 90 लाख 58 हजार 360 खुराकें दी जा चुकी हैं।

कई जगह टीकाकरण प्रमाण पत्र अनिवार्य
पिछले कुछ दिनों से कोरोना की लहर धीमी पड़ी है। हालांकि इसके बावजूद भी सावधानी बरती जा रही है। काम करने के लिए घर से बाहर जाने के सभी को कोविड टीकाकरण प्रमाण-पत्र दिखाना अनिवार्य है। जिन लोगों ने अब तक टीकाकरण नहीं करवाया है। उनको भी जल्द ही अपना नंबर आने पर ठीका लगवाना चाहिए।

Shaitan Prajapat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned