वैक्सीन ना लेने वाले लोग बनेंगे कोरोना के नए-नए वेरिएंट्स की 'फैक्ट्री'! स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने दी चेतावनी

जो लोग वैक्सीनेशन से बचने के लिए नए नए बहाने बना रहे है। उनको लेकर स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने चेतावनी जारी की है।

नई दिल्ली। देश में महामारी कोरोना वायरस की दूसरी लहर का प्रकोप अब कम हो गया है। लेकिन कोरोना की तीसरी लहर और डेल्टा वेरियंट को लेकर सरकार सहित सभी लोग चिंतित है। कोरोना से बचने के लिए विशेषज्ञ भी वैक्सीनेशन पर ज्यादा जोर दे रहे है। सभी लोगों को जल्दी से जल्दी वैक्सीन लगवानी चाहिए। कुछ लोग वैक्सीनेशन से बचने के लिए नए नए बहाने बना रहे है। उनको लेकर स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने चेतावनी जारी की है। उनका कहना है कि जो लोग वैक्सीन नहीं लगवाएंगे कोरोना के अलग-अलग वेरिएंट की फैक्ट्री बनेंगे।


कोरोना के अलग-अलग वेरिएंट की फैक्ट्री
एक रिपोर्ट के अनुसार, जो लोग वैक्सीन नहीं लेंगे उन्हें अन्य के मुकाबले कोरोना के अन्य वैरिएंट से खतरा ज्यादा है। एक संक्रामक रोग विशेषज्ञ ने कहा है कि असंक्रमित व्यक्ति ना केवल अपने स्वास्थ्य को जोखिम में डालेंगे, बल्कि कोरोना वायरस के संभावित वैरिएंट के कारखाने की तरह हो सकते हैं। ऐसे व्यक्ति से सभी को ज्यादा खतरा हो सकता है।

यह भी पढ़ें:- डेल्टा प्लस के बाद कोरोना का लैम्ब्डा वेरिएंट आया सामने, जानिए क्या है लक्षण और कितना खतरनाक साबित होगा

नए वैरिएंट और घातक म्यूटेशन के लिए वैक्सीन बहुत जरूरी
विशेषज्ञों का कहा कि निम्न और निम्न-मध्यम आय वाले देश भी कोरोना से लड़ने के लिए वैक्सीन पर जोर दे रहे है। कोरोना के नए वैरिएंट और घातक म्यूटेशन के लिए सभी लोगों को वैक्सीन लगवाना चाहिए। रिपोर्ट के मुताबिक, वेंडरबिल्ट यूनिवर्सिटी मेडिकल सेंटर में संक्रामक रोगों के विभाग के प्रोफेसर डॉ विलियम शेफनर ने कहा कि असंक्रमित लोगों की संख्या जितनी अधिक होगी, वायरस से लड़ने के लिए उतने ही ज्यादा चांस होंगे।

यह भी पढ़ें:- कोविशील्ड की दो डोज के गैप पर बहस जारी, सामने आए नए तथ्य

 

100 देशों में फैस चुका है डेल्टा वेरिएंट
विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन (WHO) के चीफ टेड्रोस अदहानोम गेब्रेयेसस ने भी कोरोना के डेल्टा वैरिएंट को लेकर चेतावनी जारी की हैै। गेब्रेयेसस ने कहा कि दुनिया इस समय कोविड-19 महामारी के बेहद खतरनाक दौर से गुजर रही है। कोरोना के डेल्टा जैसे वेरिएंट ज्यादा संक्रामक हैं। यह समय के साथ तेजी से लगातार बदल रहा है। उन्होंने आगे कहा कि दुनिया के 100 देशों में डेल्टा वेरिएंट तेजी से फैल रहा है। आने वाले समय में यह वेरिएंट ओर ज्यादा खतरनाक बन जाएंगे।

Shaitan Prajapat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned