तेजपुर यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह में बोले पीएम मोदी, कचड़े को कंचन बनाने का बीड़ा आपने उठाया

  • हमें जल जीवन मिशन को आगे बढ़ाना है।
  • युवाओं को सेफ पैसेज का चुनाव करने के बदले रिस्क उठाने चाहिए।

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज असम के तेजपुर विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह का वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए उद्धाटन किया। उन्होंने कहा कि इस विश्वविद्यालय ने कचड़े को कंचन बनाने का बीड़ा उठाया है। यहां पर एक इनोवेशन सेंटर भी हो जो अच्छा काम कर रहा है। पीएम मोदी ने कहा कि हमें जल जीवन मिशन को आगे ले जाना है। इस दिशा में हमें नदियों से सीख लेने की जरूरत है। ऐसा इसलिए कि नदियां हमें जीने की प्रेरणा देती हैं।

रिस्क उठाने में से न हिचकें

पीएम ने युवाओं संवाद करते हुए कहा कि अगर आपके सामने एक तरफ सुरक्षित जीवन जीने का मौका हो और दूसरी तरफ रिस्क लेकर आगे बढ़ने का विकल्प हो तो आपको रिस्क लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि आपको क्या लगता है हमारे सामने चुनौतियां या रिस्क नहीं हैं। हमारी सरकार खुद रिस्क उठा रही है। हमें आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है। भारत ने हालत से समझौता करने के बजाय तेजी से फैसले लिए। इसी का परिणाम है कि हम आत्मनिर्भर भारत की दिशा में काफी आगे बढ़ चुके हैं। कोरोना से निपटने में काफी सक्षम साबित हुआ। स्वदेशी कोरोना वैक्सीन भारतवासियों के साथ दुनिया को सुरक्षा कवच दे रही हैं।

pm modi
Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned