पीएम मोदी आज Smart India Hackathon को करेंगे संबोधित,  इस मंच को बताया ‘वाइब्रेंट फोरम’

  • PM ने ट्वीट कर बताया Young India talent से भरा है।
  • हैकाथॉन ने Innovation की भावना को बढ़ावा मिलेगा।
  • Digital technology का प्रतीक है स्मार्ट इंडिया हैकाथन।

नई दिल्ली। स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन 2020 ( Smart India Hackathon 2020 ) के ग्रैंड फिनाले से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( PM Narendra Modi ) ने ट्विट कर कहा कि इस कार्यक्रम में यंग इंडिया का टैंलेंट ( Young India talent ) और इनोवेशन ( Innovation ) की भावना को बढ़ावा मिलेगा। पीएम मोदी आज साढ़े चार बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ( Video Conferencing ) के जरिए अपने संबोधन के साथ स्मार्ट इंडिया हैकाथन 2020 के ग्रैंड फिनाले की शुरुआत करेंगे।

इससे पहले पीएम मोदी ने ट्वीट कर लिखा कि यह हैकाथॉन नए विचारों और इनोवेशन के लिए एक वाइब्रेंट फोरम ( Vibrant Forum ) के तौर पर उभरा है। स्वाभाविक तौर पर इस बार हमारे युवा आत्मनिर्भर भारत बनाने के तरीकों के साथ-साथ कोरोना के बाद वाली दुनिया के लिए अपने इनोवेशन पर फोकस करेंगे।

युवा भारत टैलेंट से भरा हुआ है। स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन 2020 का ग्रैंड फिनाले इनोवेशन और एक्सीलेंस की भावना को दिखाएगा। आज शाम साढ़े 4 बजे हैकाथॉन के फाइनलिस्टों से रूबरू होंगे और उनके कामों के बारे में और ज्यादा जानकारी लेने का इंतजार है।

Gurugram : साइबर सिटी में कुछ युवकों ने की सरेआम गुंडागर्दी, मीट ले जा रहे युवक को हथोड़े से पीटा

नवाचारों के पहचान की पहल

इससे पहले सरकार की तरफ से जारी आधिकारिक बयान में बताया गया कि पीएम मोदी हैकाथॉन के ग्रैंड फिनाले को संबोधित करेंगे। बयान के मुताबिक स्मार्ट इंडिया ( Smart India ) हैकाथन हमारे देश के सामने आने वाली चुनौतियों को हल करने के लिए नई और डिजिटल प्रौद्योगिकी ( Digital technology ) नवाचारों की पहचान करने की एक पहल है। पिछले कुछ वर्षों में यह युवा मस्तिष्क में एक अलग सोच को बढ़ावा देने में बेहद सफल साबित हुआ है।

2020 के पहले चरण में 4 स्टूडेंट्स ने भाग लिया था

बता दें कि स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन के 2017 के पहले संस्करण में 42,000 स्टूडेंट्स ने भाग लिया था। यह संख्या 2018 में बढ़कर एक लाख और 2019 में बढ़कर 2 लाख हो गई थी। स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन 2020 के पहले दौर में साढ़े 4 लाख से अधिक स्टूडेंट्स ने भाग लिया। इस साल 10,000 से अधिक छात्र होंगे जो केंद्र सरकार ( Central Government ) के 37 विभागों, 17 राज्य सरकारों और 20 उद्योगों से 243 समस्याओं का हल करने के लिए प्रतिस्पर्धा करेंगे।

Sushant singh case: रिया चक्रवर्ती की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में इस दिन हो सकती है सुनवाई

PM Narendra Modi
Dhirendra Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned